Homeसभी यात्री कृपया ध्यान दें, फरीदाबाद से चलना शुरू हुईं ट्रेनें, अब...

सभी यात्री कृपया ध्यान दें, फरीदाबाद से चलना शुरू हुईं ट्रेनें, अब यहां भी जा सकेंगे रेलगाड़ी में

Published on

रेल को भारत की लाइफ़ लाइन कहा जाता है। यह लाइफलाइन काफी समय से बंद पड़ी थी। स्तिथि के सामान्य होते ही धीरे – धीरे काफी जगहों पर ट्रेनें चलना शुरू हो चुकी हैं। लॉकडाउन के बाद से ग्यारह महीनों से बंद पड़ी ईएमयू की सेवा फरीदाबाद में सोमवार से रेलवे ने शुरू तो कर दी लेकिन इस दौरान यात्री ज्यादा खुश नहीं दिखे।

ट्रेनें चल जाने से गरीब तबके को काफी राहत मिली है। महामारी के कारण लगे लॉकडाउन में सबकुछ कुछ बंद था। रेलवे ने ईएमयू का रूप और नंबर बदलकर उसे एक्सप्रेस जैसा बना दिया है। किराये में तीन गुना तक बढ़ोतरी कर दी है।

भारतीय रेल

महामारी के कारण लगे लॉकडाउन में रेल हो या बस सेवा सबकुछ ठप था। अब सबकुछ चलना शुरू हो रहा है। कल फरीदाबाद, न्यूटाउन और बल्लभगढ़ स्टेशन से मात्र 27 यात्रियों ने गाजियाबाद, दिल्ली और पलवल का सफर किया। उत्तर रेलवे ने फरीदाबाद-पलवल के बीच भी ट्रेनें चलाने की तैयारी की है। अब पहले की तरह आप कहीं भी जा सकते हैं।

सभी यात्री कृपया ध्यान दें, फरीदाबाद से चलना शुरू हुईं ट्रेनें, अब यहां भी जा सकेंगे रेलगाड़ी में

लॉकडाउन के समय से बंद पड़ी ट्रेनें अब धीरे – धीरे चलने लगीं है। ट्रेनों केेे चलने से दैनिक यात्रियों को काफी राहत मिलेगी। दैनिक यात्री काफी समय से ट्रेन को चलाने की मांग कर रहे थे। इसके चलते रेलवे ने 22 फरवरी से पलवल-गाजियाबाद के बीच चलने वाली 64053 का नंबर बदलकर 04407 कर दिया है।

सभी यात्री कृपया ध्यान दें, फरीदाबाद से चलना शुरू हुईं ट्रेनें, अब यहां भी जा सकेंगे रेलगाड़ी में

पिछले काफी समय से ट्रेनों के बंद होने के कारण लोग अपने गंतव्य तक पहुँचने में परेशानी महसूस कर रहे थे। देश में लॉकडाउन के कारण कई ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया गया था। अब स्थिति सामान्य हो रही है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...