Pehchan Faridabad
Know Your City

नौकरी का झांसा देकर असम से लाई गई 5 लड़कियों को पुलिस ने करवाया मुक्त

फरीदाबाद: थाना डबुआ प्रभारी इंस्पेक्टर सोहनपाल की टीम ने नौकरी का झांसा देकर असम से लाई गई 5 लड़कियों को मुक्त करवाकर 1 महिला सहित 2 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

पुलिस उपायुक्त डॉ अर्पित जैन ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि पाँचों लड़कियां असम से लाई गई थी जिनको गलत धंधों में धकेलने की कोशिश की जा रही थी परन्तु कैद की गई 16 वर्षीय किशोरी की सूचना पर पुलिस टीम ने सभी लड़कियों को मुक्त करवाने में सफलता हासिल की है।

मुक्त करवाई गई लड़कियों में से एक की शिकायत के आधार पर थाना डबुआ में आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 370, 34 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

गिरफ्तार किए गए आरोपियों में आरोपी इजाबुल हक व रुही उर्फ शान्ति माया का नाम शामिल है।
आरोपी इजाबुल हक पुत्र जोमबार असम के बारुडगा का रहने वाला है वहीँ आरोपी रुही उर्फ शान्ति माया पुत्री जय बहादुर नागालैण्ड के दीमापुर की रहने वाली है।

मुक्त कराई गई किशोरियों को बाल कल्याण समिति व लड़कियों को जज साहब के सामने बयान करवाकर कानूनी कार्यवाही पूरी करने के पश्चात् उन्हें सकुशल उनके परिजनों के हवाले कर दिया गया।

किशोरी ने अपने ब्यान में बताया कि उसकी बहन की सहेली उसे नौकरी का झांसा देकर पहले उसे सिलीगुड़ी लेकर गई और बाद में उसे 2 अन्य लड़कियों के साथ डबुआ, फरीदाबाद पहुंचा दिया गया।

डबुआ में तीनों लड़कियों को एक कमरे में बंद कर दिया गया जिसमे 1 महिला और 1 युवती पहले से मौजूद थी जिन्हें 10 दिन पहले ही वहां लाया गया था।जब किशोरी ने उनके साथ बातचीत शुरू की तो उसे पता चला कि उन्हें यहाँ गलत धंधा करवाने के लिए लाया गया है।

यह सुनकर लड़की सहम गई परन्तु उसने हिम्मत नहीं हारी और रात को मौका पाकर किशोरी ने अपने पास छुपाए हुए फ़ोन से पुलिस को सूचना दी कि वह किसी अनजान जगह पर बंद है और उसे जगह का नाम-पता कुछ मालूम नहीं है।

सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई और साइबर तकनीक का प्रयोग करते हुए थाना डबुआ प्रभारी इंस्पेक्टर सोहनपाल की अगुवाई में ASI दिनेश, ASI रजनी, महिला सिपाही प्रियंका व टीम ने कड़ी मुशक्कत करने के पश्चात् कमरे की तलाश की और 5 लड़कियों को वहां पर कैद पाया।

पुलिस टीम ने सभी बंधकों को वहां से मुक्त करवाया गया।आरोपी मौके से फरार हो गए जिन्हें बाद में गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर डबुआ से गिरफ्तार कर लिया गया।

दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है और इस धंधे में शामिल अन्य आरोपियों की पुलिस तलाश कर रही है जिन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More