HomeLife StyleHealthफरीदाबाद में सैंपल जांच करने की धीमी रफ्तार जिला प्रशासन के लिए...

फरीदाबाद में सैंपल जांच करने की धीमी रफ्तार जिला प्रशासन के लिए बन सकती है बड़ी चुनौती।

Published on

फरीदाबाद जिले में अबतक कितने लोगो की जांच कि गईं, कितने लोग पॉजिटिव पाए गए, कितने लोगों को सर्विलांस पर रखा गया है एवं कुछ अहम आंकड़ों की जानकारी फरीदाबाद उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी डॉक्टर राम भगत द्वार साझा की गई और 24 मई तक जिले के कोरोना संबंधी आंकड़े जारी किए गए।

जारी किए गए आंकड़ों में बताया गया है कि फरीदाबाद जिले में अबतक 9288 लोगो के सैंपल जांच के लिए लैब भेजे गए है जिनमे से 8530 लोगो की रिपोर्ट नेगेटिव पाई गई तथा 550 लोगो की रिपोर्ट आनी अभी शेष है।

जांच के लिए भेजे गए कुल सैंपल में से 208 लोग पॉजिटिव पाए गए है जिनमें से 80 मरीज फिलहाल अस्पताल में भर्ती है एवं 7 बिना लक्षण वाले मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा हुआ है।

फरीदाबाद में सैंपल जांच करने की धीमी रफ्तार जिला प्रशासन के लिए बन सकती है बड़ी चुनौती।

कुल संक्रमित मरीजों में से 115 मरीज पूरी तरीके से ठीक हो चुके है और 6 मरीजों की जान इस वायरस के चलते फरीदाबाद जिले में जा चुकी है। इसके साथ ही डॉक्टर राम भगत ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते अबतक जिले में 9493 लोगो को सर्विलांस पर लिया जा चुका है जिनमे से 3345 लोगो को निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है और शेष 6142 लोग फिलहाल अंडर सर्विलांस है।

बता दे की फरीदाबाद में जिस प्रकार कोरोना का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है उसे देखते हुए और फरीदाबाद की 10 लाख से भी अधिक की आबादी पर इतने धीरे जांच करना और कम संख्या में सैंपल कलेक्ट करना जिले के लिए एक बड़ी चुनौती है।

क्यूंकि फरीदाबाद में पाए जाने वाले कुल संक्रमित मरीजों में से 60 फीसदी मरीज बिना लक्षण वाले है अर्थात यदि इन मरीजों का टेस्ट नहीं किया जाता तो इनके संक्रमित होने की रिपोर्ट कभी सामने नहीं आती।

फरीदाबाद में सैंपल जांच करने की धीमी रफ्तार जिला प्रशासन के लिए बन सकती है बड़ी चुनौती।

इसलिए आवश्यकता है कि फरीदाबाद में कोरोना के कम्युनिटी ट्रांसमिशन को रोकने के लिए और बिना लक्षण वाले मरीजों को ट्रैक करने के लिए तेजी से रैपिड कोरोना टेस्ट किए जाने की जरूरत है अन्यथा यह महामारी फरीदाबाद जिले में विकराल रूप धारण कर सकती है और सैकड़ों लोगों को की जान इस महामारी के कारण खतरे में पड़ सकती है।

Latest articles

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

More like this

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

श्री राम नाम से चली सरकार भूले तुलसी का विचार और जनता को मिला केवल अंधकार (#_बजट): भारत अशोक अरोड़ा

खट्टर सरकार ने आज राज्य के लिए आम बजट पेश किया इस दौरान सीएम...