HomeFaridabadइस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग,...

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

Published on

अगर आप भी मानते है कि आपका शहर स्वच्छ है तो आप भी स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लें और अपनी प्रतिक्रिया दे। इसके लिए आपको फरीदाबाद 311 एप को इंस्टॉल करना होगा। जिसके बाद आप इस ऐप के जरिए स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग ले सकते हैं।

नगर निगम फरीदाबाद के द्वारा फरीदाबाद 311 एप को लांच किया गया। जिसमें एक स्वच्छता सर्वेक्षण 2011 सिटिजन फीडबैक का ऑप्शन दिया गया है।

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

जिस पर जाकर कोई भी व्यक्ति जिले के स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लेकर जिले को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान दे सकता हैं। उस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक स्क्रीन खुलेगी।

जिस में लिखा हुआ है  कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 भारत सरकार के आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा किया जाता है। जो 1 जनवरी से लेकर 31 मार्च के बीच भारत के सभी शहरों को कवर करेगा।

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

स्वच्छ भारत का महत्वपूर्ण घटक आपके निवास के शहर और आपके पड़ोस में स्वच्छता को प्राप्त करने में आपके द्वारा शहर द्वारा की गई प्रगति पर आपकी प्रतिक्रिया को पाना है। मंत्रालय की ओर से हम अपनी प्रतिक्रिया देने के लिए आपको विचार और समय की सराहना करना चाहेंगे।

आपके उत्तर से सर्वेक्षण 2021 सफल होगा। इस मैसेज के बाद आपको अपने राज्य का नाम चुनना होगा। राज्य का नाम चुनने के बाद आपको जिले का नाम चुनना होगा। उसके बाद आपको दोबारा से अर्बन लोकल बॉडी सिटी ने जिले के नाम को को चुनना होगा। इन सभी को ऑप्शन  को भरने के बाद आपसे एक सवाल पूछा जाएगा।

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

क्या मैं आपकी पूरी उम्र जान सकता हूं जिसमें आपको अपनी उम्र लिखनी होगी। उसके बाद आप से यह भी पूछा जाएगा कि क्या आप इस शहरी स्थानीय निकाय और शहर में कम से कम पिछले 6 महीने से रह रहे हैं। जिसके उत्तर में हां या ना है ।

आठ सवालों के देने होंगे जवाब

हां या ना का जवाब देने के बाद आपको अपना नाम और मोबाइल नंबर भरना होगा। इन सभी को भरने के बाद आपके सामने प्रोसीड का ऑप्शन आएगा। प्रोसीड के ऑप्शन को क्लिक करने के बाद आपके सामने कई सारे सवाल आएंगे।

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

पहला सवाल यह है कि क्या आप जानते हैं कि आपका शहर स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में भाग ले रहा है। जिसके जवाब में हां या नहीं बताना है। दूसरा सवाल यह है कि क्या आप स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में अपने शहर की रैंक जानते हैं।

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

जिसके जवाब में आपको हा या नहीं भरना होगा। अगर आप नहीं भरते है तो आपसे कोई ओर सवाल नहीं पुछा जाएगा। लेकिन अगर आप हां भरते है तो आपको बताना होगा कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में आपके शहर का क्या स्थान था।

इसके बाद तीसरा सवाल यह है कि आप अपने पड़ोस के स्वच्छता स्तर पर 0-10 के पैमाने पर अपने शहर को कितने अंक देना चाहेंगे।

इसके उत्तर में 0 से 10 तक गिनती हैं जिसमें से एक नंबर को चुनना होगा। उसके बाद आप का चैथा सवाल यह है कि 0-10 के पैमाने पर आप अपने शहर को अपने व्यवसायिक सार्वजनिक क्षेत्रों के सर्वोच्च स्तर पर कितने अंक देना चाहेंगे जिसमें उत्तर में भी 0-10 अंक दिए है।

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

उसमें से एक अंक को चूनना होगा। पांचवा प्रश्न यह है कि क्या आप से हमेशा अपने कचरा संग्राहक को सूखा और गीला कचरा अलग देने के लिए कहा जाता है। जिसके उत्तर में हां हमेशा, नहीं लेकिन कभी कभी या फिर कभी नहीं।

छठा सवाल यह है कि आप अपने शहर के सार्वजनिक या सामुदायिक शौचालय मूत्रालय के स्वच्छता स्तर पर 0 से 10 के पैमाने पर अपने शहर को कितने अंक देना चाहेंगे।

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

इसमें भी उत्तर के तौर पर अंक दिए हुए है जिसमें से एक अंक को चुनना होगा। सातवां प्रश्न यह है कि क्या आप जानते हैं कि आप गूगल पर निकटतम सार्वजनिक शौचालय खोज सकते हैं।

इसके जवाब में हां या ना में जवाब देना होगा। अखिरी सवाल यहां है कि क्या आप जानते हैं कि आप स्वच्छता के बारे में अपनी शिकायतों को उठाने के लिए स्वच्छता एप स्थानीय एप का प्रयोग कर सकते हैं।

इस एप के जरिए भी ले सकते है स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग, जनिए कौन सा है एप

इसमें भी आपको हां या ना जवाब देना होगा। इन सभी प्रश्नों के उत्तर देने के बाद सबमिट का ऑप्शन दबाना होगा जिसके बाद के सभी प्रश्नों के जवाब स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 में योगदान देंगे।

उसके बाद एक मैसेज आएगा जिसमें लिखा होगा कि मंत्रालय की ओर से कहा जाएगा कि सिटिजन फीडबैक के लिए आपको धन्यवाद है। आपका महत्वपूर्ण सहयोग स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 को सफल बनाएगा। प्रश्नों के उत्तर सबमिट करने के बाद आपके सामने तुरंत फेसबुक पेज का स्वच्छता सर्वेक्षण पेज खुल जाएगा।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...