Homeउधार लिए पैसे नहीं दे सकी महिला, तो रची कुछ ऐसी झूठी...

उधार लिए पैसे नहीं दे सकी महिला, तो रची कुछ ऐसी झूठी कहानी कर्ज़ हो गया माफ

Published on

किसी भी महिला के लिए उसकी इज़्ज़त सबसे ज़रूरी होती है। देश में ऐसी बहुत कम महिलाएं होंगी जिनको उनकी इज़्ज़त की परवाह नहीं। क्योंकि एक ऐसा ही मामला संज्ञान में आया है। दरअसल, छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक महिला ने अपने साथ गैंग रेप, मारपीट और जान से मारने की धमकी देने संबंधी झूठी शिकायत कर दी।

ऐसी झूठी शिकायतें हो सकता है रोज़ाना देश में आती होंगी। लेकिन सबूतों के अभाव में सही इंसान भी गलत बन जाता है। इस मामले में एक महिला की शिकायत पर उच्च अधिकारी के निर्देश पर जांच शुरू की गई है।

उधार लिए पैसे नहीं दे सकी महिला, तो रची कुछ ऐसी झूठी कहानी कर्ज़ हो गया माफ

महिलाओं के लिए उनकी इज़्ज़त सबसे प्यारी होती है। कोई महिला यदि झूठा रेप का मुकदमा करदे तो सवाल खड़े होते हैं। इस मामले की जांच में मामला और शिकायत दोनों झूठे निकले। पुलिस जांच का परिणाम रहा कि इस मामले में आरोपी बनाए जा रहे 6 लोगों के दामन पर लग रहा दाग साफ हो गया।

उधार लिए पैसे नहीं दे सकी महिला, तो रची कुछ ऐसी झूठी कहानी कर्ज़ हो गया माफ

झूठे मुकदमों में शरीफ इंसान भी दलदल की भांति फंस जाता है। आसानी से वह नहीं निकल पाता। इस मामले में एक महिला ने एक मार्च को पुलिस अधीक्षक से पथर्रीपारा निवासी लखनदास महंत, उत्तमदास महंत और कुछ साथी के खिलाफ लिखित शिकायत की। इनके द्वारा जान से मारने की धमकी देकर गैंग रेप किया गया और जबरन चेक व कोरे कागज में हस्ताक्षर कराने के लिए मारपीट की गई।

उधार लिए पैसे नहीं दे सकी महिला, तो रची कुछ ऐसी झूठी कहानी कर्ज़ हो गया माफ

गहन जांच करने के बाद यह सभी आरोप निराधार निकले। महिला ने कुछ पैसे देने थे उन्हीं पैसों को ना देना पड़े इसलिए यह झूठी पटकथा लिखी। ऐसे मामलों में निर्दोष व्यक्ति भी दोषी बन जाता है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...