HomeFaridabadजर्जर स्कूल की इमारतों में पढ़ने को मजबूर है सरकारी स्कूल के...

जर्जर स्कूल की इमारतों में पढ़ने को मजबूर है सरकारी स्कूल के बच्चे, विभाग का नहीं है ध्यान

Published on

हरियाणा सरकार पर देश भर में मॉडल संस्कृति स्कूल खोलने की योजना बना रही है परंतु पहले से चल रहे सरकारी स्कूलों के हालात ही बद से बदतर बने हुए हैं। जिले में सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे अपनी जान को जोखिम में डालकर सरकारी स्कूलों में पढ़ाई कर रहे हैं। जिले में कुछ स्कूल ऐसे हैं जिनके स्कूल की बिल्डिंग ही जर्जर अवस्था में चाहे वह बदरौला सरकारी स्कूल हो या फिर बड़खल का सरकारी स्कूल हो।

दरअसल, गांव बड़खल में 60 साल पुरानी जर्जर बिल्डिंग में चल रहा सरकारी स्कूल बच्चों के लिए खतरा बन सकता है। इतना ही नहीं स्कूल के कुछ हिस्सों पर ग्रामीणों ने अतिक्रमण कर रखा है। ध्यान देने वाली बात यह है कि स्कूल में एक क्लासरूम की खिड़की गांव के एक घर में खुलती है। जिला शिक्षा अधिकारी रितु चौधरी द्वारा इस स्कूल का जायजा भी लिया गया है।

जर्जर स्कूल की इमारतों में पढ़ने को मजबूर है सरकारी स्कूल के बच्चे, विभाग का नहीं है ध्यान

वही स्कूल की प्रिंसिपल अलका कवर ने बताया कि स्कूल को मॉडल संस्कृति स्कूल के रूप में विकसित किया जाना था परंतु स्कूल की स्थिति को देखते हुए उस सूची से भी स्कूल का नाम कट गया। स्कूल को लेकर विधायक सीमा त्रिखा ने शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर को पत्र के माध्यम से अवगत कराया है लेकिन अभी तक इस स्कूल पर कोई ध्यान नहीं दिया गया है।

आपको बता दें कि इस स्कूल में 1717 विद्यार्थी पढ़ते है और 23 कमरे हैं जिसमें साइंस कॉमर्स औरआर्ट्स तीनों संकाय के विद्यार्थी पढ़ते हैं। इसके चलते यहां पर कंप्यूटर लैब भी बनाए गए हैं परंतु लैब भी केवल खानापूर्ति करते हैं।

जर्जर स्कूल की इमारतों में पढ़ने को मजबूर है सरकारी स्कूल के बच्चे, विभाग का नहीं है ध्यान

स्थिति यह है कि कमरों के अभाव में स्कूल को दो शिफ्टों में चलाया जाता है। दो शिफ्टों में स्कूल को चलाने के बावजूद भी एक बेंच पर दो या तीन विद्यार्थी बैठते हैं ऐसे में कोरोना के चलते सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं हो पाता है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...