Online se Dil tak

नगर निगम दे रहा है इस वर्ग के लोगों को विशेष फ़ायदा कही आप भी तो नही है शामिल

फरीदाबाद में कूड़े का ढ़ेर जगह जगह देखने को मिलता ही है। लेकिन उसकी सफ़ाई को लेकर कोई खास कदम नही उठायें गए थे। लेकिन अब नगर निगम आयुक्त यशपाल यादव ने इसके खिलाफ़ एक अच्छा कदम उठाया है। जी हां अब इसके खिलाफ़ यशपाल यादव ने ईको ग्रीन को 7 दिन का समय दिया है जिसमें उन्हें अपने काम को दिखना है। अगर ऐसा करने में ईको ग्रीन असमर्थ होता है तो उसके खिलाफ़ कारवाही की जाएगी। दरअसल नगर निगम आयुक्त द्वारा कूड़ा मुक्त अभियान चलाया गया है। जिसके अन्तर्गत जून तक शहर को कूड़ा मुक्त किया जाएगा।

नगर निगम दे रहा है इस वर्ग के लोगों को विशेष फ़ायदा कही आप भी तो नही है शामिल
नगर निगम दे रहा है इस वर्ग के लोगों को विशेष फ़ायदा कही आप भी तो नही है शामिल

गरीब वर्ग से नही लिए जाएँगे पैसे

ईको ग्रीन ने ये शिकायत कि थी की बहुत ऐसे जगह है जहां पर लोग पैसे देने में असमर्थ होते है। ऐसे में यशपाल यादव ने इसका हल निकालते हुए कहा की ऐसे घर जो पैसे देने में असमर्थ होते है उनके घरों से पैसे नही लिए जाएँगे। इन घरों के लोगों को अपना कूड़ा एक जगह इकट्ठा करना होगा। उसके बाद ईको ग्रीन द्वारा वो कूड़ा वहां से उठाया जाएगा। सिर्फ़ इतना ही नहीं ईको ग्रीन व जनता दौनों के लिए इस काम को आसान बनने के लिए कुछ नियम बनाएं गए है जिससे लोगों को परेशानी का सामना ना करना पड़े।

नगर निगम दे रहा है इस वर्ग के लोगों को विशेष फ़ायदा कही आप भी तो नही है शामिल
नगर निगम दे रहा है इस वर्ग के लोगों को विशेष फ़ायदा कही आप भी तो नही है शामिल

इस तरह किया जाएगा कूड़ा इकट्ठा

फरीदाबाद के कुछ ऐसे इलाके है यहां पर लोग एक दिन का पैसा कमाते है और खाते है। ऐसे में लोग खुद अपना एक समय का खाना मुश्किल से खा पाते है तो कूड़े के लिए पैसे कहाँ से दे? लेकिन अब इसकी कोई चिंता की बात नही है क्योकिं इसका हल भी नगर निगम आयुक्त द्वारा निकला गया है। अब जो लोग पैसे देने में असमर्थ है उनको सिर्फ़ अपने घरों से कूड़ा बाहर रखना है। ईको ग्रीन की गाड़ी आकर खुद उस कूड़े को वहां से लेकर जाएगी बिना पैसे लिए।

नगर निगम दे रहा है इस वर्ग के लोगों को विशेष फ़ायदा कही आप भी तो नही है शामिल
नगर निगम दे रहा है इस वर्ग के लोगों को विशेष फ़ायदा कही आप भी तो नही है शामिल

सिर्फ़ इतना ही नही शहर को साफ करने के लिए हर मुमकिन कोईश की जाएगी। इसके अलावा स्कूलों में भी बच्चों को भी गीले व सुखे कूड़े के बारे में पढाया जाएगा।

Written by : Isha singh

Read More

Recent