Online se Dil tak

उम्र 103 हौसला 18 का, महामारी का टीका लगवाकर दिया संदेश डटकर लड़ने का

देश में महामारी से लड़ने के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो गया है। वैक्सीनेशन में काफी लोग उत्साह तो काफी लोग डर का माहौल दिखा रहे हैं। फरीदाबाद में भी वैक्सीन लग रही है। महामारी से बचाव को लेकर चलाया जा रहा टीकाकरण अभियान जोरो से चल रहा है। कल अपेक्षा से काफी कम संख्या में लोगों ने टीका लगवाया जिले में।

वैक्सीन लगना भले ही शुरू हो गया है लेकिन लोगों की मास्क पहनने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की आदत छूट गई है। कल जिले में खास बात यह रही कि एनआइटी नंबर दो निवासी 103 वर्षीय बुजुर्ग लक्ष्मण दास दुआ अपने पौत्र हिमांशु के साथ एशियन अस्पताल में टीका लगवाने पहुंचे।

उम्र 103 हौसला 18 का, महामारी का टीका लगवाकर दिया संदेश डटकर लड़ने का

जिले में टीकाकरण को लेकर बुजुर्गों में उत्साह देखा जा रहा है। मध्य वर्गीय उम्र वाले अभी भी हिचक रहे हैं। लेकिन महामारी से बचाव के लिए जरूरी टीकाकरण के प्रति अब बुजुर्ग रुचि बढ़ रही है। 103 वर्षीय बुजुर्ग के पोते हिमांशु ने बताया कि उम्र के इस पड़ाव में भी ईश्वर की दया से पूरी तरह स्वस्थ हैं। प्रदेश में एक बार फिरसे लगातार महामारी के मामले बढ़ते जा रहे हैं।

उम्र 103 हौसला 18 का, महामारी का टीका लगवाकर दिया संदेश डटकर लड़ने का

वैक्सीनेशन के दौरान बताया जा रहा है कि अभी खतरा खत्म नहीं हुआ है। लेकिन फिर भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। 103 की उम्र में 18 वाला जोश है उन बुजुर्ग का। जो लोग वैक्सीन को लगवाने में डर रहे उनको कुछ सीख 103 वर्षीय बुज़ुर्ग से लेनी चाहिए। जिले में कुल 8 केंद्र ऐसे बनाए हैं जहां शहरवासी 24 घंटे में कभी आकर टीका लगवा सकते हैं।

उम्र 103 हौसला 18 का, महामारी का टीका लगवाकर दिया संदेश डटकर लड़ने का

उम्र 103 लेकिन हौसला 18 का अभी भी जीवित है लक्ष्मण दास में। देश में काफी लोग संदेह की निगाह से वैक्सीन को देख रहे हैं लेकिन, इतने बुज़ुर्ग लोग बिना डर के वैक्सीन लगवा रहे हैं।

Read More

Recent