Online se Dil tak

किसी के इशारे पर अपने वाहन को ना रोके, नहीं तो हो सकती है ये बुरी घटना

अगर आपको अभी कोई सड़क पर चलते हुए इशारा करके वाहन को रोकने के लिए कहता है। तो हो जाएं सावधान, क्योंकि आज के समय में चोरों के द्वारा एक नई ट्रिक का इस्तेमाल किया जा रहा है। जिसके बाद वह चोरी की घटना को अंजाम देने में सफल हो जाते हैं।

ऐसा ही एक मामला फरीदाबाद में देखने को मिला है थाना मुजेसर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मकान नंबर 480 सेक्टर 16a निवासी ईश्वर सिंह ने बताया कि बताया कि वह अपने दोस्त जगदीश प्रसाद जो कि दयालबाग फरीदाबाद का रहने वाला है।

किसी के इशारे पर अपने वाहन को ना रोके, नहीं तो हो सकती है ये बुरी घटना
किसी के इशारे पर अपने वाहन को ना रोके, नहीं तो हो सकती है ये बुरी घटना

उसके साथ उसकी गाड़ी नंबर एचआर 51 बीजी 4097 में सवार होकर एनआईटी चार नंबर स्टेट जीएसटी ऑफिस में जा रहे थे।

जैसे ही वह सेक्टर 22- 23 की बत्ती के पास पहुंचे तो वहां पर मौजूद एक व्यक्ति ने इशारा करके उनसे कहा कि गाड़ी को चेक करो उस व्यक्ति के इशारे को सच मानते हुए, जब उन्होंने गाड़ी को चेक किया तो उनकी गाड़ी का पिछला पहिया पंचर था। जिसके चलते रेड लाइट के पास ही पंचर लगवाने वाले के पास ले गए। पंचर लगवाने के लिए वह व उनका दोस्त दोनों गाड़ी से नीचे उतर गए।

मकैनिक पंचर लगा ही रहा था कि इसी दौरान गाड़ी की सीट पर रखा बैग जो कि एक अज्ञात व्यक्ति चोरी करके ले गया। वह व्यक्ति वहीं पर नजदीक में खड़ी मोटरसाइकिल पर बैठकर सेक्टर 24 की तरफ भाग गया। यह घटना करीब 7:15 से 7:30 के बीच की है। उस बैग के अंदर एक लैपटॉप, दो पेनड्राइव व एक ऑफिस डॉक्यूमेंट मौजूद है। पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है।

किसी के इशारे पर अपने वाहन को ना रोके, नहीं तो हो सकती है ये बुरी घटना
किसी के इशारे पर अपने वाहन को ना रोके, नहीं तो हो सकती है ये बुरी घटना

वहीं दूसरी ओर संजय कॉलोनी पुलिस चौकी के इंचार्ज से मिली जानकारी के अनुसार मकान नंबर 40 जैन कॉलोनी गली नंबर 2 बल्लभगढ़ के रहने वाले अशोक ने बताया कि उनकी खुद की एक कंपनी है। जो कि ट्रैक्टर के पार्ट्स को बनाती है। जो पॉलिथीन पैकिंग के लिए संजय कॉलोनी सोना टी प्वाइंट से जब वह हार्डवेयर की तरफ थोड़ा आगे चला।

तो वहां पर एक दुकान है उस दुकान के बाहर 7:10 पर उसने अपनी गाड़ी को खड़ा किया था। उसके बाद गाड़ी में रखे बैग में शेयर करें 15 सो रुपए निकाले और गाड़ी को बिना लॉक किए पॉलिथीन लेने के लिए दुकान पर चला गया। अभी दो ही कदम चले थे कि उनको ख्याल आया कि पैसे कुछ कम पड़ेंगे तो क्यों ना और पैसे ले लीजिए आए।

किसी के इशारे पर अपने वाहन को ना रोके, नहीं तो हो सकती है ये बुरी घटना
किसी के इशारे पर अपने वाहन को ना रोके, नहीं तो हो सकती है ये बुरी घटना

इसीलिए उन्होंने वापस कुछ ही सेकंड के बाद जब वह गाड़ी की तरफ गए तो वहां पैसों से भरा जो बैग था, वहां वह नहीं था। जिसमें लगभग करीब ₹25700 थे और एक डायरी पासबुक, लैपटॉप, दो चेक बुक एचडीएफसी बैंक और एक्सिस बैंक की, एक उसकी पत्नी सीमा देवी के एचडीएफसी बैंक की पासबुक मौजूद है ।पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है

Read More

Recent