Pehchan Faridabad
Know Your City

बेहतर रखरखाव की राह ताक रही रानी की छतरी का अब होगा विकास, बजट में मिला यह तोहफा

ऐतिहासिक स्थलों में शुमार बल्लबगढ़ स्थित रानी की छतरी के दिन फिरने वाले हैं। बजट में रानी की छतरी को पर्यटन स्थल के तौर पर विकसित करने का ऐलान किया गया है।


दरअसल, हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल ने को बतौर वित्त मंत्री भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार का बजट पेश किया। बजट टैब के जरिए ऑनलाइन पेश किया गया। फरीदाबाद को बजट में कई सौगातें दी गई है जिसमे रोजगार दिलाने के लिए आईआईटी का तोहफा भी शामिल है वही बल्लबगढ़ की ऐतिहासिक रानी की छतरी का विकास पर्यटन स्थल के तौर पर करने का भी ऐलान किया गया है।

सरकार इसे पंजाब पुरातन ऐतिहासिक स्मारक एवं पुरातात्विक स्थल तथा अवेष अधिनियम, 1964 के तहत राज्य के संरक्षण में लेगी। इससे लोगों को रोजगार के अवसर भी प्रदान होंगे।

आपको बता दे कि पिछले कुछ दिनों में फरीदाबाद के कुछ ऐतिहासिक स्थलों को पर्यटन विभाग में शामिल किया गया है। अब इन सभी पर्यटन स्थलों का जीर्णोद्धार किया जायेगा। इससे पहले नगर निगम की अनदेखी की वजह से ये पर्यटन स्थल बदहाली की मार झेल रहे थे चाहे वह बराही तालाब हो या फिर बड़खल झील।

आपको बता दे कि परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने रानी की छतरी का जीर्णोद्धार करने की मांग रखी थी जिसके बाद बजट में इसकी घोषणा की गई है।

गौरतलब है कि रानी राजा नाहर सिंह की ऐतिहासिक नगरी की रानी की छतरी लगभग 300 वर्ष पुरानी है। सरकार द्वारा इसका लगभग पौने दो करोड रुपए की धनराशि से जीर्णोद्धार किया जा रहा है। बल्लभगढ़ शहर का ऐतिहासिक स्थल रानी की छतरी महल में धौलपुर का पत्थर लगाकर उसे पुरानी यादों से जोड़ा जा रहा है।

नगर निगम के अधीन चल रहा यह जीर्णोद्धार विकास कार्य लगभग 4 महीने में पूरा होगा। इस कार्य में रानी की छतरी, तालाब सहित महल अन्य स्थानों का भी नवीनीकरण किया जा रहा है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More