Online se Dil tak

बजट में फरीदाबाद के हाथ रहे खाली, नहीं मिली कोई विशेष योजना

हरियाणा के बजट में फरीदाबाद को नजरअंदाज कर दिया गया है। जिले को बजट में कुछ भी विशेष योजना नही दी गई है वही कुछ ऐसी योजनाएं जरूर दी गई जो सभी राज्यों को समान रूप से दी गई है। कुछ योजनाएं ऐसी भी है जिन्हें पिछले बार भी बजट में शामिल किया गया जिसमें जिले में दो नर्सिंग कॉलेज सहित सिकरोना में आईटीआई निर्माण शामिल है।

बजट में जिले को मिली ये सौगात

  • फरीदाबाद में छह नए साइबर थाने, अंबाला रेंज में पांच, करनाल में 11- बल्लभगढ़ स्थित रानी की छतरी को राज्य सरकार संरक्षण में लेगी।
  • म्हारा गांव जगमग गांव के तहत राज्य के 22 जिलों में से 10 में 24 घंटे बिजली आपूर्ति का दावा, फरीदाबाद भी शामिल। हालांकि शहरी क्षेत्र में भी अभी बिजली आपूर्ति सुनिश्चित नहीं है।
  • रोहतक की तर्ज पर फरीदाबाद में भी वाहनों का निरीक्षण एवं प्रमाणन केंद्र स्थापित किया जाएगा।
  • – सिकरोना में आईटीआई की स्थापना। यह बीते कई वर्ष से निर्माणाधीन आईटीआई है।
बजट में फरीदाबाद के हाथ रहे खाली, नहीं मिली कोई विशेष योजना
बजट में फरीदाबाद के हाथ रहे खाली, नहीं मिली कोई विशेष योजना
  • फरीदाबाद में दो नर्सिंग कॉलेज गांव अरूआ और दयालपुर में स्थापित किए जा रहे हैं। सीएम घोषणा के तहत सरकार के बीते वर्ष के काम हैं। यहां भी इसी वर्ष से दाखिले होंगे। इसके लिए बिल्डिंग का काम होने तक वैकल्पिक जगह तलाशी जा रही है। इसे बजट में स्थान दिया गया।
  • – अटल बिहारी वाजपेयी मेडिकल कॉलेज में मरम्मत का काम जारी। स्टाफ भर्ती की जा रही हैं। इस वर्ष से ही दाखिले होंगे।

गौरतलब है कि राज्य सरकार ने पिछली बार भी बजट में औद्योगिक नगरी को निराश किया था वहीं इस बार भी जिले को कोई विशेष योजना नही दी गई है।

बजट में फरीदाबाद के हाथ रहे खाली, नहीं मिली कोई विशेष योजना
बजट में फरीदाबाद के हाथ रहे खाली, नहीं मिली कोई विशेष योजना

ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि बजट में फरीदाबाद के साथ सौतेला व्यवहार किया गया है चाहे वह फिल्मसिटी को लेकर हैं या फिर अन्य योजनाओं को लेकर।

Read More

Recent