Homeअयोध्या में श्रीराम के दर्शन के साथ यह सुविधा मिलेगी बिल्कुल फ्री,...

अयोध्या में श्रीराम के दर्शन के साथ यह सुविधा मिलेगी बिल्कुल फ्री, जानें

Published on

श्रीराम का नाम सुनते ही मन पवित्र हो जाता है। राम ही सत्य हैं। राम भक्तों के लिए सैकड़ों सालों का इंतज़ार जो अब खत्म हुआ है, इससे चहुंओर ख़ुशी है। ऐसी ही एक और ख़ुशी श्रद्धालुओं के लिए है। दरअसल, रामलला के दर्शनार्थियों को लॉकर की सुविधा मुफ्त मिलेगी। दर्शनार्थियों के लिए लंबे समय से लॉकर की सुविधा ज्वलंत प्रश्न की तरह रही है।

रामलला के दर्शनों के लिए दुनियाभर से लोग आते हैं। इस सुविधा से उन्हें काफी राहत मिलेगी। अभी सुरक्षा कारणों से रामलला के दर्शन किसी वस्तु के साथ नहीं किया जा सकता और सुरक्षा घेरे के पहले द्वार से ही उन श्रद्धालुओं को वापस लौटा दिया जाता है, जिनके पास कोई भी निषिद्ध वस्तु होती है।

अयोध्या में श्रीराम के दर्शन के साथ यह सुविधा मिलेगी बिल्कुल फ्री, जानें

जो श्रद्धालु अपनी वाहनों में दर्शन के लिए आते हैं, वह सारा समान अपनी वाहनों में ही छोड़ जाते हैं। अब उन्हें भी राहत मिलेगी जो अपनी वाहनों से नहीं आते। रामलला के दर्शन मार्ग पर दर्शनार्थियों के पास की वस्तुओं को रखने के लिए थोक के भाव में लॉकर खोले गए, पर एकाध को छोड़ कर कोई भी अपेक्षित सहूलियत वाले नहीं रहे।

free locker facility for devotees in ayodhya ann

वह सभी अपनी मनमानी वाले थे। लूटपाट की जाती थी, मनमाने दामों से। दर्शन करने जब कोई जाता था तो उस समय से मात्र आधा-एक घंटे तक घड़ी, बेल्ट, पेन, कंघी, मोबाइल जैसी वस्तुएं रखने के लिए लॉकर संचालक प्रति वस्तु पांच से 10 रुपये तक वसूलने लगे। यह व्यवस्था आर्थिक तौर पर श्रद्धालुओं की भावनाएं आहत करने के साथ सुरक्षा पर भी सवाल खड़ा करने वाली थी।

अयोध्या में श्रीराम के दर्शन के साथ यह सुविधा मिलेगी बिल्कुल फ्री, जानें

रामभक्तों के लिए लिया गया यह फैसला काफी सुविधाजनक है। मनमाने दाम मांगने वालों से भी राहत अब मिलेगी। फ्री लॉकर सेवा से निश्चिंत होकर श्रद्धालु श्रीराम के दर्शन कर सकेंगें।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...