HomePoliticsदुष्यंत चौटाला का स्वागत करने वालों से ज़्यादा विरोध करने वाले...

दुष्यंत चौटाला का स्वागत करने वालों से ज़्यादा विरोध करने वाले होंगे।

Published on

52 पाल की किसान-मजदूर संघर्ष समिति के लोग बुधवार को नरियाला गांव पहुंचे और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के होली मिलन कार्यक्रम के आयोजकों से उन्होंने अपीली की है कि इलाके के मान सम्मान की बात है इसलिए उन्हें दुष्यंत चौटाला के कार्यक्रम को रद्द कर देना चाहिए।

किसान नेता जगन डागर ने कहा कि मोदी सरकार के काले कृषि कानून को लेकर फरीदाबाद के किसानों में भारी आक्रोश है। इलाके के लोगों का आपस में भाई-चारा है। इस लिए संघर्ष समिति के लोग नरियाला गांव के आयोजकों को समझाने गए थे।

दुष्यंत चौटाला का स्वागत करने वालों से ज़्यादा विरोध करने वाले होंगे।

ताकि किसी का भी आपसी भाई-चारा न बिगड़े। उन्होंने कहा कि फिर भी यदि दुष्यंत चौटाला नरियाला गांव में पहुंचते हैं तो उनका जगह-जगह पर भारी विरोध किया जाएगा। गांव के नौजवान, महिलाएं सभी सड़कों के किनारे खड़े होकर दुष्यंत चौटाला को काले झंडे दिखा कर अपना विरोध दर्ज कराएंगे।

जगन डागर ने कहा कि दुष्यंत चौटाला का स्वागत करने वालों से ज्यादा विरोध करने वाले लोग होंगे। प्रशासन को चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि उनका प्रदर्शन शांतिपूर्वक होगा। यदि प्रशासन ने उनके विरोध को बलपूर्वक दबाने की कोशिश की तो इसके गंभीर परिणाम होंगे। जिसके लिए खट्टर सरकार जिम्मेदार होगी।

दुष्यंत चौटाला का स्वागत करने वालों से ज़्यादा विरोध करने वाले होंगे।

इस मौके पर महेंद्र सिंह चौहान, रतन सिंह सरौत, ज्ञान सिंह चौहान, सोहनपाल सिंह, रूपचंद लाम्बा, नत्थी सरपंच, जोगिंद्र पहलवान, केशर डागर, शीशराम, देशराज बलई, मनीष हुड्डा, पवन, संतराम डागर, बॉबी, किशन सिंह, साबू राम, हरदेव आदि मौजूद रहे।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...