Pehchan Faridabad
Know Your City

लॉक में मिली ढील में सावधानी बरतनी है बेहद जरूरी : डीसी यशपाल यादव

लॉक डाउन जिसको कोरोना वायरस पर लगाम लगाने के लिए लगाया गया था। ऐसे में हर बार लॉक डाउन की खत्म होने की मियाद से महज कुछ दिन पहले दोबारा लॉक डाउन को बढ़ा दिया जाता है,ऐसे में लोग परेशान हो रहे थे। क्योंकि ना लोगों के पास रोजगार है और ना ही आर्थिक तंगी से निपटने के लिए अन्य किसी साधन की व्यवस्था।


जिसे देख कर सरकार ने लॉक डाउन के चौथे चरण में बेहद हद तक छूट दी थी ताकि लोगों के सामने जो आर्थिक तंगी आ रही है उनमें कुछ सुधार किया जा सके। लेकिन बावजूद कुछ लोगों द्वारा अभी भी इस छूट का नाजायज फायदा उठाने का प्रयास किया जा रहा है।


लोग बेवजह यहां वहां घूम रहे है। लॉक डाउन के नियमों की धज्जियां उड़ाते देखे जा रहे हैं। पुलिस विभाग द्वारा भी जरा सी ढील देते हो ऑटो चालक भी अपनी मनमानी पर उतारू हो गए हैं। लेकिन लोगों को समझना होगा कि यह ढील देने का मतलब लोगों को कुछ हद तक राहत देने से है। इसका मतलब यह कतई नहीं है कि लोग इस अवसर का जमकर फायदा उठाएं।


फरीदाबाद जिला उपयुक्त ने एक संदेश जारी करते हुए बताया कि लॉक डाउन में ढील देने से कैसे नए रिस्क बढ़ सकते हैं ऐसी में क्या सावधानी बरतें।


सरकार अपनी ओर से पूरी कोशिश कर रही है लेकिन आप देश के नागरिकों का कर्तव्य है कि उन्हें आप कैसे वायरस को खुद को दूसरों को भी बचाना है।


सरकार ने जो नियम बनाए हैं ऑटो में एक सवारियां क्या में दो सवारी ही बैठ सकते हैं। इन्हें निभाना अब हमारी जिम्मेदारी है।
अगर कोई मास्क नहीं पहनता था

दूसरे लोग उसे समझाएं पहनने के लिए कहें दुकानदार भी ग्राहकों को बताएं कि मास्क लगाना जरूरी है। इस बात का ध्यान रखना है कि मांस निकालना नहीं है। ऑफिस जा रहे हैं तो हाथ नहीं मिलाना अगर नियमों के बारे में तो रिस्क कम होगा।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More