HomeUncategorizedजनता कर्फ्यू को हुआ एक साल,बुरे वक्त से नही लिया कोई सबक

जनता कर्फ्यू को हुआ एक साल,बुरे वक्त से नही लिया कोई सबक

Published on

कोरोना महामारी ने न सिर्फ देश बल्कि दुनिया में हाहाकार मचा कर रखा हुआ है। शहर फरीदाबाद में कोरोना संक्रमण से होने वाले हाहाकार को 1 साल पूरा हो चुका है। बीते वर्ष 22 मार्च को ही पहला जनता कर्फ्यू जैसा कदम उठाया गया था ताकि संक्रमण को काबू किया जा सके।

जिसके बाद एक लंबे समय तक लॉकडाउन का दौर शुरू हुआ। जिसने लोगों की जिंदगी को काबू में कर लिया। कोरो 9 लोगों की जिंदगी को बुरी तरह प्रभावित किया। कोरोना के कारण न केवल घरों से निकलना बंद हुआ बल्कि खाने-पीने के भी लाले पड़ने लगे थे।

जनता कर्फ्यू को हुआ एक साल,बुरे वक्त से नही लिया कोई सबक

कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए अनेक प्रयास किए गए। इस दौरान कभी लगता की हालत काबू में है तो कभी यह एक खतरनाक रूप ले लेते। 1 साल पहले जिले में जहां केवल एक केस था वहीं अब 261 एक्टिव केस हैं।

1 साल में स्वास्थ्य विभाग 5 लाख 60 हजार, 750 सैंपल ले चुका है। शनिवार तक जिले में 47,027 संक्रमित मिले, जिनमें से 46346 मरीज ठीक हुए किंतु 420 संक्रमितों की मौत भी हो चुकी है। पिछले 1 साल में की अनेकों प्रयासों के परिणाम स्वरूप अब स्थिति को काफी हद तक काबू में किया जा चुका है।

जनता कर्फ्यू को हुआ एक साल,बुरे वक्त से नही लिया कोई सबक

कोरोना संक्रमण के कारण लगे लॉकडाउन में लोगों को जान माल की हानि हुई थी। लोगों ने पलायन शुरू कर दिया था। कई बच्चे व बूढ़े न केवल कोरोना संक्रमण से बल्कि भूख व दुर्घटना से भी मारे गए।

जिले में पिछले साल 20 मार्च को पहला कोरोना मरीज पाया गया जबकि 30 अप्रैल को पहले कोरोना संक्रमित की मौत हो चुकी थी। नवंबर में संक्रमण इतना बड़ा कि 15,195 नई मरीज मिले जबकि 95 लोगों की मौत हो चुकी थी। लेकिन इसके बाद हालातों में सुधार नजर आने लगे।

जनता कर्फ्यू को हुआ एक साल,बुरे वक्त से नही लिया कोई सबक

लंबे इंतजार के बाद कोरोना वैक्सीन के बनने के बाद लोग खुद को सुरक्षित महसूस करने लगे हैं। लोक टीकाकरण करा रहे हैं ताकि संक्रमण से बचे रहे। जिले में क्षेत्र टीकाकरण केंद्र निर्धारित किए गए हैं तथा अब तक 85000 लोगों का टीकाकरण भी हो चुका है। वैक्सीन आने के बाद लोगों ने पहले जैसी जिंदगी जीना शुरु कर दिया है।

न केवल लोगों की जिंदगी बदली बल्कि स्वास्थ्य सेवाएं भी काफी प्रभावित हुई है। पिछले साल जहां केवल एक कोवीड अस्पताल था अब जिले में 45 कोविड अस्पताल है। लेकिन देखा जा रहा है कि लोग फिर से लापरवाह हो रहे हैं।

जनता कर्फ्यू को हुआ एक साल,बुरे वक्त से नही लिया कोई सबक

डी सी यशपाल यादव का कहना है कि लोगों को सतर्क रहने की आवश्यकता है। क्योंकि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। लोग सुरक्षित रहने के लिए कोरोना के नियमों का पालन करते हुए मास्क पहनते रहेंगे दूरी बनाए रखें।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...