Pehchan Faridabad
Know Your City

KL मेहता की टीम ने बनाया पहाड़ जैसा लक्ष्य, दूसरे मैच में आसानी से जीती भूपानी वॉरियर्स

तीसरे दिन का पांचवां मैच लॉयन क्रिकेट टीम और KL मेहता क्रिकेट टीम के बीच खेला गया पहले टॉस लॉयन क्रिकेट टीम ने जीता और पहले गेंदबाज़ी का फ़ैसला लिया। KL मेहता की टीम ने 20 ओवर में चार विकेट खोकर 237 रनों का पहाड़ जैसा लक्ष्य लॉयन क्रिकेट टीम को दिया।

ताबड़ तोड़ बल्लेबाज़ी करते हुए KL मेहता की टीम ने एक विशाल स्कोर खड़ा कर दिया। जिसको बनाना लॉयन क्रिकेट टीम के लिए बहुत ही मुश्किल था। KL मेहता की तरफ़ से सर्वाधिक रन सुमित 61 रन बनाए और नितिन ने 53 रन बनाए। उन्होंने पहले विकेट के लिए 121 रनों की अटूट साझेदारी हासिल की। लॉयन क्रिकेट टीम की गेंदबाज़ी की बात करें तो तीन ही विकेट ले पाए।

रोशन ने एक, शुभम ने एक और रोहित ने एक विकेट लेकर अपनी टीम को कामयाबी दिलायी। लॉयन बैटिंग की बात करें तो 77 रनों पर ढेर हो गई। जिसमें मोहित ने सर्वाधिक 20 रन और सूरज ने 15 रन अपनी टीम के लिए जोड़ें। लॉयन क्रिकेट टीम ने 13 ओवर में ही अपने सारे विकेट खो दिए।

KL मेहता की बॉलिंग की बात करें तो सोहेल ने पाँच विकेट और यश ने दो विकेट अपनी टीम को दिलायी। लॉयन क्रिकेट टीम के कप्तान यश यादव ने कहा था कि हमारी रणनीति ठीक नहीं थी जिसके चलते हमें हार का सामना करना पड़ा।

वही KL मेहता के कप्तान सोहेल ने कहा कि हमारा लक्ष्य जल्द से जल्द सबको आउट करना था और हम उसमें सफल हुए। मैन ऑफ़ द मैच सोहेल को चुना गया जिन्होंने 37 रनों के साथ पाँच विकेट भी हासिल किए।

भूपानी वॉरीअर्स और किंग्स इलेवन ऑफ बल्लभगढ़ के बीच छठा मैच खेला गया। आपको बता दे यह मैच Echelon institute के मैदान में खेला जा रहा है। सारे मैच नॉकआउट मुक़ाबले हैं। इन EPL मैचों में 46 टीमें हिस्सा ले रही हैं जीतने वाले को 51,000 रुपया की धनराशि विजेता के तौर पर मिलेगी।

बात करे आज के मैच की तो टॉस जीतकर भूपानी वॉरियर्स ने पहले गेंदबाज़ी चुनी। गेंदबाज़ी करते हुए वॉरियर्स ने बल्लभगढ़ की टीम को 11 ओवर, 2 बॉल पर 48 रन पर ही समेट दिया। बल्लभगढ़ की टीम से सर्वाधिक बाबुल ने 10 रन, पिंकू ने पाँच रन की साझेदारी निभाई। भूपानी वॉरियर्स के गेंदबाज़ी की बात करे तो कप्तान भीम ने तीन विकेट और भोलू ने चार विकेट लिए।


अब बात करते हैं भूपानी वॉरियर्स की तो उनकी शुरुआत ही ख़राब हुई। पहला विकेट तुषार शर्मा के रूप में 0 पर गया। और दूसरा विकेट 10 रन पर गया। अच्छी शुरुआत नहीं होने के कारण टीम संकट में आ गई और क्रीज़ पर भोलू और आसूं ने ज़िम्मेदारी के साथ अपनी टीम को जीत के शिखर पर ले गए।

भोलू ने 22 रन और 4 विकेट लिए जिसके साथ वह मैन ऑफ़ द मैच और, मैक्सिमम छक्के लगाने के लिए कोरनिटोज गिफ़्ट हैम्पर से सम्मानित किए गए। वहीं आँसू ने 3 चौकों की मदद से 16 रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिलवाई। भूपानी वॉरियर्स ने 8 ओवर में ही चौके के साथ 50 रन बना दिए।

बल्लभगढ़ की बॉलिंग की बात करे तो एक विकेट सिराज ने और एक विकेट ऋतिक ने हासिल किया।मैच के अंत में सभी खिलाड़ियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More