Online se Dil tak

मंगलवार मीट बैन पर घिरी हरियाणा सरकार, जानिये देश के दूसरे राज्यों में क्या है नियम

प्रदेश सरकार का एक फैसला उसे घेरे जा रहा है। विपक्ष भी तंज कस चुका है। कुछ व्यापारी भी सरकार से गुहार लगा चुके हैं। दरअसल, दरअसल, गुरुग्राम में अब हर मंगलवार को मीट की दुकानें बंद रहेंगी। मीट की दुकानें बंद रखने का आदेश चर्चा का विषय बना हुआ है। इस पूरे मामले पर हरियाणा सरकार का कहना है कि राज्य सरकार का इससे कोई लेना देना नहीं है।

काफी बड़े – बड़े नेताओं ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। सरकार का यह फैसला कहीं न कहीं कई सवाल खड़े भी करता है। सभी सवाल पूछ रहे हैं गुरुग्राम जैसा नियम क्या देश में कहीं और भी है।

मंगलवार मीट बैन पर घिरी हरियाणा सरकार, जानिये देश के दूसरे राज्यों में क्या है नियम

हरियाणा का विपक्ष ऐसा बन चुका है कि हर मौके पर यह अपनी राजनीति चमकाने की फिराक में रहते हैं। देश के अधिकांश राज्यों में व्यापार मंडल की ओर से तय किया जाता है कि किस दिन दुकानें बंद रखनी है। गुरुग्राम जहां विदेशी मूल के लोग भी काफी अधिक संख्या में रहते हैं। इस फैसले के बाद सवाल खड़े हो रहे हैं।

मंगलवार मीट बैन पर घिरी हरियाणा सरकार, जानिये देश के दूसरे राज्यों में क्या है नियम

प्रदेश के किसी और जिले या फिर शहर में इस प्रकार का कोई आदेश नहीं है। यह भी कहना होगा कि भारत में बसे कुछ शांतिदूत के व्यंजनों को शुद्ध नहीं कहा जा सकता। सनातन धर्म इसकी अनुमति नहीं देता है। दिल्ली में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है कि मीट की दुकान किसी खास दिन बंद रहेगी। हालांकि दक्षिणी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र में अब मीट के दुकानदारों को यह बताना अनिवार्य कर दिया गया है कि वे ‘हलाल’ का मीट बेच रहे हैं या ‘झटके’ का।

मंगलवार मीट बैन पर घिरी हरियाणा सरकार, जानिये देश के दूसरे राज्यों में क्या है नियम

मंगलवार के दिन जहां काफी लोग अंडा तक नहीं खाते, प्याज़ को हाथ नहीं लगाते, ऐसे में ओवैसी बोल रहे हैं कि धार्मिक भावनाएं कैसे आहत हो सकती हैं। गलती उनकी नहीं शायद उनके धर्म की हैं। औवेसी ने आगे कहा कि इस तर्क के आधार पर शुक्रवार को शराब की दुकानें बंद होनी चाहिए।

Read More

Recent