Online se Dil tak

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की बैठक,दिए निर्देश

सड़क सुरक्षा, परिवार पहचान पत्र और रबी सीजन फसल खरीद को लेकर मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शनिवार को बैठक ली। वीडियो कांफ्रेंस में फरीदाबाद से परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा एवं उपायुक्त यशपाल शामिल हुए। वीडियो कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि नेशनल हाईवे ओर जर्जर सड़कों पर होने वाली दुर्घटनाओं के बचाव के लिए संबंधित विभाग के अधिकारी अपने दायित्व का निर्वाह पूर्ण ईमानदारी निष्ठा से करें ताकि सड़क सुरक्षा के विषय को सही रूप में जनहित में लागू किया जा सके। उन्होंने कहा कि जर्जर हुई सड़कों की समय रहते मुरम्मत की जाए । सड़क सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए नेशनल हाईवे पर ट्रॉमा सेंटर ,एंबुलेंस व अन्य सभी सुविधाओं का समय रहते संचालन किया जाना बेहद जरूरी है ताकि दुर्घटना के दौरान किसी की मृत्यु ना होने पाए।

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की बैठक,दिए निर्देश
मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की बैठक,दिए निर्देश

हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचन्द शर्मा ने रोड सेफ्टी के विषय पर मुख्यमंत्री द्वारा दिए निर्देशों की गम्भीरता से अनुपालना का आश्वासन दिया। वीडियो कांफ्रेंस में मुख्यमंत्री ने हरियाणा में मण्डियों में अनाज खरीद के विषय पर विभागीय अधिकारियों से कहा कि वे किसानों ,आढ़तियों से संबंधित सभी समस्याओं का समाधान समय रहते करें ताकि उन्हे इस संबंध में किसी भी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े ।

इसके साथ ही उन्होंने परिवार पहचान पत्र योजना पर भी उपस्थित अधिकारियों को दिशा निर्देश देते हुए कहा कि परिवार पहचान पत्र जनहित के सामाजिक व आर्थिक विकास व स्तर के दृष्टिगत महत्वपूर्ण योजना है। इस बात को ध्यान में रखते हुए संबंधित अधिकारी अपने दायित्व का निर्वाह करें । उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार विभागीय योजनाओं के लिये करोड़ो रूपये खर्च कर रही है। इन सभी योजनाओं को समय पर पूरा करना हम सब का नैतिक दायित्व है। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों म लापरवाही किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी ।

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की बैठक,दिए निर्देश
मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की बैठक,दिए निर्देश

उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि यदि कोई अधिकारी जानबूझकर इस प्रकार की कोताही बरतता है तो उसके खिलाफ प्रशासनिक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। यदि कोई अधिकारी अच्छा कार्य करता है ,तो उसको प्रोहसाहित भी किया जाएगा। इस अवसर उपायुक्त यशपाल, अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान, एसडीएम परमजीत चहल , सीएमजीजीए रूपला सक्सेना सहित संबंधित विभागों के अधिकारीगण विशेष तौर पर उपस्थित थे।

Read More

Recent