HomeIndiaभारतीय सेना में भी महिलाओं को पुरुषों के समान अधिकार, स्थाई कमीशन...

भारतीय सेना में भी महिलाओं को पुरुषों के समान अधिकार, स्थाई कमीशन देने का बड़ा फैसला

Published on

भारतीय सेना और नौसेना में महिला अफसरों के साथ स्थाई कमीशन मामले में हो रहे भेदभाव पर सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस डी.वाई.चंद्रचूड़ द्वारा बड़ा फैसला सुनाया गया।

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को फैसला सुनाते हुए कहा कि भारतीय सेना और नौसेना में महिला अफसरों को 1 महीने के भीतर स्थाई कमीशन देने पर विचार करें व 2 महीने के भीतर इन्हें स्थाई कमीशन दो। इसके साथ ही अन्य सुविधाओं पर भी महिलाओं के लिए ध्यान देने को कहा।

भारतीय सेना में भी महिलाओं को पुरुषों के समान अधिकार, स्थाई कमीशन देने का बड़ा फैसला

सुप्रीम कोर्ट ने महिला अफसरों के लिए बनाए गए मेडिकल फिटनेस मापदंड को भी मनमाना व तर्कहीन बताया। महिला अधिकारियों की ओर से दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि महिलाओं के लिए मुश्किल होता है

भारतीय सेना में भी महिलाओं को पुरुषों के समान अधिकार, स्थाई कमीशन देने का बड़ा फैसला

कि वे चाइल्ड केयर और घरेलू काम की जिम्मेदारी के साथ साथ सेना में भी अपना महत्वपूर्ण योगदान देती है। ऐसे में महिला अधिकारियों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखना हर एक की जिम्मेदारी हो जाती है।

बता दें कि भारतीय सेना और नौसेना में महिला अधिकारियों की स्थाई कमीशन मामले में 7 महिला अधिकारियों द्वारा याचिका दायर की गई जिस पर विचार करते हुए सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को अहम फैसला सुनाया।

भारतीय सेना में भी महिलाओं को पुरुषों के समान अधिकार, स्थाई कमीशन देने का बड़ा फैसला

सुप्रीम कोर्ट ने महिला अधिकारियों को फिटनेस व अपनी योग्यताओं को पूरा करने के बावजूद स्थाई कमीशन नहीं देने पर नाराजगी व्यक्त की। सुप्रीम कोर्ट ने बताया कि दिल्ली कोर्ट ने इस मामले पर वर्ष 2010 में पहला फैसला सुनाया था परन्तु 10 साल बीत जाने पर भी कुछ भी नही हो पाया है

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...