Pehchan Faridabad
Know Your City

पाकिस्‍तान को पता चली अपनी औकात, भारत के सामने किया आत्मसमर्पण, चीन भी हटा पीछे

पाकिस्तान जब से बना है तब से लेकर अब तक कश्मीर को लेकर सावन देख रहा है। लेकिन ऐसा पहली बार देखने को मिला है जब पाकिस्तान में बैठे आतंकी आकाओं से लेकर वहां की सेना के प्रमुख बाजवा तक ने स्वीकार किया है कि कश्मीर को लेकर उनका प्लान फेल हो गया है। मतलब कश्मीर को लेकर पाकिस्तान पूरी दुनिया में अकेला पड़ चुका है, इस बात का एहसास उसे अब हुआ है।

ईद के मुकद्दस अवसर पर जब पूरी दुनिया अमनो अमान की बात कर रही थी, तब पाकिस्तान आर्मी का जनरल बाजवा जहरीले बोल बोल रहा था। पाकिस्तान के लोग जब अपने मुल्क को कोरोना से बचाने के लिए दुआ कर रहे थे, तब पाकिस्तान फौज का जनरल कश्मीर के नाम पर छाती पीट रहा था।

कश्मीर को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बनाने की तरकीब निकल रहा पाकिस्तान अब आखिरकार अपनी हार स्वीकार कर चुका है। पाकिस्तानी सेना के जनरल कमर जावेद बाजवा ने बयान देते हुए कहा है कि पाकिस्तान कश्मीर को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बनाने में असफल रहा है।

ईद की नमाज पढ़ने के बाद मुल्तान में मीडिया से बात करते हुए पाक्सितानी जनरल ने कहा कि पाकिस्तान शांतिप्रिय देश है और शांति चाहता है और खुद पे संयम रखने की उसकी नीति को कमजोरी नहीं समझना चाहिए।

उन्होंने संयुक्त राष्ट्र और ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन के महासचिव का ध्यान कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन की ओर खींचा है। एलओसी का दौरा करने बाद उन्होंने कश्मीर को एक विवादित क्षेत्र बताया।

बाजवा ने गीदड़भभकी देते हुए कहा कि इसकी स्थिति को चुनौती देने के किसी भी प्रयास का पूरी सैन्य ताकत के साथ जवाब दिया जाएगा। जाहिर है ये बयान पाकिस्तान की हताशा और गुस्सा दोनों दिखाने के लिए काफी है। लेकिन पाक से सेना प्रमुख ने अपने सैनिकों के सामने ऐसा बयान दिया क्यों।

बाजवा ने एलओसी का दौरा करने के कश्मीर को एक बार फिर एक विवादित क्षेत्र भी बताया। बाजवा अपने लोगों के सामने हमेशा कहता रहता है कि हमने संयुक्त राष्ट्र और ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कान्फ्रेंस के सामने कश्मीर का मामला उठाया, लेकिन पूरी दुनिया जानती है कि पाकिस्तान के इस फरेब पर उसे किसी का साथ नहीं मिला।

दरअसल जब से कश्मरी से आर्टिकल 370 हटा है, तब से पाकिस्तान बैचेने है। भाड़े के आतंकियों के जरिए हिंदुस्तान में आतंक का प्लान हर मोर्चे पर फेल हो चुका है। एक के बाद एक उसके आतंकी जमातों के आका दोजख पहुंचे रहे हैं।

LOC पर पाक की नापाक हरकतों के जवाब में भारत इतने बम बरसा रहा है कि पाकिस्तान की रातों की नींद उड़ी हुई है। पाकिस्तान चीन की शह पर भारत के खिलाफ मोर्चा खोलता रहा। चीन अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत पर दबाव भी बनाता रहा है, लेकिन अब बाजी पलट चुकी है। कोरोना के कलंक के कारण पूरी दुनिया चीन को सबक सिखाने के मूड में है और चीन की हालत ऐसी है कि वो अभी अपनी जान बचा ले वो भी बहुत है।

हिंदुस्तान के बढ़ते कद के आगे चीन की चीखें निकल रही हैं। बार्डर पर हमेशा हेकड़ी दिखाने वाला चीन अब बैचेन है और भारत अपने सीमावर्ती इलाकों में तेजी से संसाधन जुटा रहा है। उधर पाकिस्तान की हालत भी खराब है। दुनिया में आतंक को लेकर वो बेनकाब हो चुका है और बाजवा का इस तरह से हार मानना बताता है कि चाचा चीन के दम पर कश्मीर को लेकर सब्ज बाग देखने वाले भतीजे की आंख अब खुल गई है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More