HomeFaridabadस्मार्ट सिटी फरीदाबाद के वर्ष 2031 के मास्टर प्लान अनुसार बढ़ेगा ओद्योगिक...

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद के वर्ष 2031 के मास्टर प्लान अनुसार बढ़ेगा ओद्योगिक क्षेत्रफल, मिलेंगे रोजगार ने नए अवसर

Published on

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद को और अधिक स्मार्ट बनाने के लिए सरकार द्वारा अनेकों प्रयास किए जा रहे हैं। सरकार द्वारा हर क्षेत्र में काम किया जा रहा है ताकि फरीदाबाद की छवि को और अधिक निखारा जा सके। फिर चाहे वह नालों का निर्माण हो, मेट्रो पिलरों पर चित्रकारी हो.

सड़कों का निर्माण हो, पेयजल की समस्या को दुरुस्त करना हो या फिर प्रदूषण को खत्म करने का प्रयास हो, क्षेत्र में बढ़ चढ़कर काम किया जा रहा है। अब स्मार्ट सिटी फरीदाबाद में औद्योगिक क्षेत्र का दायरा भी बढ़ाया जाएगा। अकेले फरीदाबाद महानगर प्राधिकरण ने लेआउट प्लान तैयार किया है।

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद के वर्ष 2031 के मास्टर प्लान अनुसार बढ़ेगा ओद्योगिक क्षेत्रफल, मिलेंगे रोजगार ने नए अवसर

फरीदाबाद में वर्ष 2031 के मास्टर प्लान के अनुसार औद्योगिक क्षेत्र का दायरा 14.2 फीसदी से बढ़ाकर 17.98 फीसदी क्या जाएगा, ताकि जिले में उद्योगों को बढ़ावा मिल सके तथा रोजगार के अनेक अवसर मिल सके।

इससे लोगों को शहर से बाहर जाकर रोजगार तलाशने की आवश्यकता नहीं होगी। गढ़वाली स्मार्ट सिटी लिमिटेड की तरफ से बड़खल झील को और अधिक सुंदर बनाने की परियोजना पर भी काम किया जा रहा है। साथ ही फरीदाबाद की दो मुख्य सड़कों को भी स्मार्ट सड़क के रूप में बनाने की तैयारी की जा रही है।

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद के वर्ष 2031 के मास्टर प्लान अनुसार बढ़ेगा ओद्योगिक क्षेत्रफल, मिलेंगे रोजगार ने नए अवसर

वर्ष 2031 के मास्टर प्लान पर 115 व्यक्ति प्रति हेक्टेयर के कोई शहरी घनत्व को ध्यान में रखते हुए काम किया जा रहा है। इस प्रकार 3955 नाखून व्यक्तियों की सुविधा के लिए 34368 हेक्टेयर क्षेत्र के अंदर ही शहरीकरण किया जा सकेगा।

बता दें कि एफ एल डी ए के अनुसार फरीदाबाद में 43.3 फीस दी क्षेत्र में आवासीय क्षेत्र शामिल है, 14.2 फीसदी क्षेत्र परिवहन संचालन के लिए तथा 8.4 फीसदी क्षेत्र खुला हुआ है। 8.4 फीसदी क्षेत्र जो खुला हुआ है उस पर पाक और ग्रीन बेल्ट हैं। व्यवसाय गतिविधियों के लिए 7.6 फीसदी क्षेत्र और 2.5 फीसदी क्षेत्र पेयजल आपूर्ति के लिए है जिसमें रेनीवेल व ट्यूबेल आदि भी शामिल है।

स्मार्ट सिटी फरीदाबाद के वर्ष 2031 के मास्टर प्लान अनुसार बढ़ेगा ओद्योगिक क्षेत्रफल, मिलेंगे रोजगार ने नए अवसर

शहर में 14.2 फीसदी क्षेत्र उद्योग के लिए है। जिसे 2031 के मास्टर प्लान में बढ़ाकर 17.98 फीसदी किया जाएगा। इसके लिए औद्योगिक क्षेत्र में करीब 3 फीसदी की बढ़ोतरी की जाएगी। औद्योगिक क्षेत्र में तीन प्रीति को बढ़ाने के लिए वर्ष 2031 की परियोजना में आवासीय क्षेत्र की भूमि को 43.4 फीसदी से एक ही कम कर 42.36 फीसदी रखा गया है।

इसी प्रकार ग्रीन बेल्ट अप्पा के खुले क्षेत्र को 15.20 फ़ीसदी रखा गया है। इसके साथ ही शौचालय व पब्लिक यूटिलिटी आदि का क्षेत्रफल भी बढ़ाया जाएगा। वर्ष 2031 के मास्टर प्लान में औद्योगिक क्षेत्र को बढ़ाया जाएगा ताकि उद्योगों को बढ़ावा मिल सके। इससे नई कंपनी आएंगी, रोजगार के नए अवसर मिलेंगे, लोगों को काम के लिए शहर से बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...