Online se Dil tak

हरियाणा के किसान का कमाल, गेहूं-धान छोड़ ये चीज़ उगाई, तीन महीने में कमाए लाखों रुपये

देशभर में अब यह सोच समाप्त होने लगी है कि खेती – बाड़ी बस नुकसान का सौदा है। लोग अपने कामों को छोड़कर अब खेती करने लगे हैं। मुनाफा खेती में अब होने लगा है। मुनाफे से भरी कहानी है इस हरियाणा के किसान की। युवा किसान विक्की मलिक ने परापंरागत खेती धान व गेहूं को छोड़कर एक एकड़ भूमि में ताइवान के रूचा खीरा की फसल उगाई।

देश में कहीं न कहीं ऐसी धारणा बन गई है कि किसानों की आय नहीं होती। जो लोग अब दिमाग से खेती से कर रहे हैं वो अपनी सफलता की कहानी लिख रहे हैं। ताइवान के खीरा में मात्र 35 हजार रुपये की लागत लगी। तीन माह में फसल को बेचकर दो लाख रुपये की कमाई पक्की कर ली।

हरियाणा के किसान का कमाल, गेहूं-धान छोड़ ये चीज़ उगाई, तीन महीने में कमाए लाखों रुपये

किसानों की आय अब दोगुनी से भी ज़्यादा होने लगी है। अच्छी रकम में उनको दाम मिल रहे हैं। विक्की ने भी किसानों को आमदनी कई गुना करने की राह दिखाई है। उन्होंने पहले मिट्टी के बेड बनाकर रूचा किस्म खीरा उगाया है। इसे दिसंबर के अंत में लगाया गया था। मार्च के पहले सप्ताह से पैदावार शुरू हो गई थी। इसी जमीन पर फिर से रूचीता ताइवान खीरा लगाया जाएगा। दो फसल खीरे की खेती लेकर एक ही साल में तीन खेती ले सकते हैं।

हरियाणा के किसान का कमाल, गेहूं-धान छोड़ ये चीज़ उगाई, तीन महीने में कमाए लाखों रुपये

बेशक लोगों को आज सामान्य खेती में कोई खास भविष्य नजर नहीं आ रहा है। इसलिए, बहुत से किसान परिवार खेती छोड़कर दूसरे रोजगार तलाश रहे हैं। विक्की के खेतों में फिलहाल रोजाना 700-800 किलोग्राम खीरे का उत्पादन हो रहा है। इस खीरे का बाजार में 20 से 25 रुपये प्रति किलोग्राम भाव मिल रहा है। 60 दिनों में 35 हजार रुपये की कमाई हो चुकी है। अभी दो माह तक उत्पादन होगा।

हरियाणा के किसान का कमाल, गेहूं-धान छोड़ ये चीज़ उगाई, तीन महीने में कमाए लाखों रुपये
हरियाणा के किसान का कमाल, गेहूं-धान छोड़ ये चीज़ उगाई, तीन महीने में कमाए लाखों रुपये

विक्की जैसे किसान दूसरें किसानों के रोल मॉडल बन रहे हैं। ऐसे किसान साबित करते हैं कि खेती में भी कमाई है अगर दिमाग से चलोगे तो। आज काफी लोग खेती करना चाहते हैं।

Read More

Recent