HomeFaridabadओडीएफ प्लस में आया फरीदाबाद का नाम,गदगद हुआ नगर निगम

ओडीएफ प्लस में आया फरीदाबाद का नाम,गदगद हुआ नगर निगम

Published on

आवासीय एवं शहरी मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से फरीदाबाद को ओडीएफ प्लस घोषित किया गया है। कल 31 मार्च देर सायं को इसके परिणाम की घोषणा हुई। निगमायुक्त ने विभागीय अधिकारियों, कर्मचारियों के साथ-साथ शहरवासियों को भी इसका श्रेय देते हुए बधाई दी है साथ ही इस उपलब्धि को बरकरार रखने की भी अपील की है।

हरियाणा के ओडीएफ प्लस घोषित 36 शहरों में फरीदाबाद का नाम आने से निगम के अधिकारियों, कर्मचारियों में खुशी की लहर दौड़ गई है।

ओडीएफ प्लस में आया फरीदाबाद का नाम,गदगद हुआ नगर निगम

फरीदाबाद नगर निगम के आयुक्त यशपाल यादव ने बताया कि बीएफ सार्टिफिकेशन स्वच्छ सर्वेक्षण का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और नगर निगम फरीदाबाद द्वारा ओडीएफ प्लस प्रमाण पत्र हासिल करना अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है क्योंकि इसके करीब 300 अंक होते है

जो स्वच्छता सर्वेक्षण में भी जुड़ते है। उन्होंने शहर के लोगों से अपील की है कि वे इस उपलब्धि को भविष्य में भी बनाये रखें। वैसे भी स्वच्छता खुद में भी व्यापक अर्थ रखती है। उन्होंने बताया कि यू तो शहर को साफ रखने का हर संभव उपाय किया जा रहा है। खुले में शौच बीमारि8यों को न्यौता देने के साथ एक सामाजिक बुराई भी है।

ओडीएफ प्लस में आया फरीदाबाद का नाम,गदगद हुआ नगर निगम

निगमायुक्त ने बताया कि यदि कोई व्यक्ति खुले में शौच करते हुए पाया गया तो उस पर जुर्माना लगाया जाएगाए इसलिए लोग कोई ऐसा कार्य न करें जिसके लिए उन्हें शर्मिदंगी उठानी पड़े।

निगम के अतिरिक्त निगमायुक्त इन्द्रजीत कुल्हड़िया ने आज यहां जारी एक प्रैस विज्ञप्ति में यह जानकारी देते हुए बताया कि आवासीय एवं शहरी मंत्रालयए भारत सरकार की ओर से शहर में जनवरी 2021 में एक टीम भेजकर शहर में ओडीएफ प्लस सर्वेक्षण करवाया गया था। इन टीमों ने कुल 89 स्थानों व

ओडीएफ प्लस में आया फरीदाबाद का नाम,गदगद हुआ नगर निगम

47 जनशौचालयों की जांच की। काॅमर्शियल एरिया, पब्लिक एरिया, स्लम एरिया, रेलवे स्टेषन, आवासीय क्षेत्रों में मौजूद शौचालय को देखकर इसी आधार पर इसका मूल्यांकन किया गया है। उन्होंने बताया कि फरीदाबाद नगर निगम क्षेत्र में इस समय कुल 47 शौचालय है,

इनमें से 39 सार्वजनिक शौचालय व 8 सामुदायिक शौचालय हैं। यह सभी शौचालय गूगल मेप पर भी अंकित है जिससे कि आवष्यकता होने पर कोई भी व्यक्ति इन्हें गूगल पर सर्च करके निकटस्थ शौचालय का उपयोग कर सके।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...