Online se Dil tak

किसानों ने दी चेतावनी, सरकार मांगें नहीं मानी तो इन राज्यों की काट देंगे बिजली, लोगों में बिजली कट का डर

किसानों के मसीहा बने घूम रहे राकेश टिकैत ने केंद्र सरकार को खुलेआम धमकी दी है। धमकी देने से शायद इनका काम हो जाये, अगर यह सोच जीवित रहेगी आंदोलन में तो यह किसान नहीं अपराधियों का आंदोलन है। दरअसल, टिकैत ने चेतावनी दी है कि अगर केंद्र सरकार किसानों की मांगों को नहीं मानती है तो 16 राज्यों को बिजली काट दी जाएगी।

किसान आंदोलन अब नया रूप लेता जा रहा है। हर दिन किसानों की संख्या भी घट रही है। बहरहाल, टिकैत की यह चेतावनी शनिवार को राजस्थान के दौसा में एक महापंचायत के लिए जाते समय भरतपुर में मीडिया से बातचीत के दौरान आई।

किसानों ने दी चेतावनी, सरकार मांगें नहीं मानी तो इन राज्यों की काट देंगे बिजली, लोगों में बिजली कट का डर

किसानों के आंदोलन में अब काफी कम संख्या किसानों की दिखाई दे रही है। ऐसे में टिकैत जैसे लोग इसमें आग लगाने का काम कर रहे हैं। टिकैत ने कहा है कि केंद्र में कोई सरकार नहीं है और व्यापारी देश पर शासन कर रहे हैं। उन्होंने सभी सरकारी संस्थानों को बेच दिया है और देश के लोगों को सरकार में बैठे ऐसे लोगों को बाहर का रास्ता दिखाने की जरूरत है।

किसानों ने दी चेतावनी, सरकार मांगें नहीं मानी तो इन राज्यों की काट देंगे बिजली, लोगों में बिजली कट का डर

अब बिजली काटने की धमकी तो कभी दिल्ली कूच करके अफरा – तफरी मचाने वाले किसान लगातार लोगों के हृदय से निकलते जा रहे हैं। टिकैत ने यह भी कहा है कि संसद या विधानसभा में पूर्ण बहुमत मिलने पर कोई भी दल तानाशाह बन जाता है। केंद्र सरकार किसानों की जमीन बेचने की योजना बना रही है, जबकि जनता बेरोजगारी और भुखमरी का सामना कर रही है।

किसानों ने दी चेतावनी, सरकार मांगें नहीं मानी तो इन राज्यों की काट देंगे बिजली, लोगों में बिजली कट का डर

राजधानी को अपंग बनाये बैठे किसानों के रूप में बदमाशों को सोचना पड़ेगा कि यह गलती उनकी देश को घाव दे सकती है। किसान नेता अभी तक बोलते आ रहे थे कि यह आंदोलन राजनीती से दूर है। वही नेता इन दिनों बंगाल में ममता बनर्जी के समर्थन में वोट मांग रहे हैं। किसानों को बरगला कर इस आंदोलन को तूल दिया जा रहा है। कई विपक्षी दल इसे सत्तारूढ़ भाजपा के खिलाफ एक अवसर के रूप में देख रहे हैं।

Read More

Recent