HomeCrimeसेक्टर 14 के मकान में लगी आग पुलिस की सूझबूझ से बची...

सेक्टर 14 के मकान में लगी आग पुलिस की सूझबूझ से बची सभी लोगों की जान

Published on

सेक्टर 14 में शॉर्ट सर्किट की वजह से अचानक एक मकान में आग लग गई। मकान में सो रहे परिवार वालों को जब सांस लेने में दिक्कत हुई। तो उन्होंने देखा कि घर में दुआ हुआ है। जिसके बाद घर की औरतों व बच्चों को सीढ़ियों के रास्ते पहली मंजिल पर पहुंचा दिया। इसी दौरान वहां मौजूद सिक्योरिटी गार्ड ने इसकी सूचना तुरंत सेक्टर 14 की चौकी प्रभारी को दी।

जिसके बाद चौकी प्रभारी व उनकी टीम के द्वारा सूझबूझ के जरिए सभी परिजनों को सुरक्षित घर से बाहर निकाल लिया गया।

सेक्टर 14 के मकान में लगी आग पुलिस की सूझबूझ से बची सभी लोगों की जान


सेक्टर 14 के रहने वाले यशपाल जटवानी और उनके भाई प्रवीण परिवार के साथ एक ही मकान में रहते हैं। परिवार में उनकी पत्नियां के अलावा दो बेटियां हैं। सोमवार की सुबह अचानक ग्राउंड फ्लोर पर शार्ट सर्किट की वजह से आग लग गई।

उस समय पूरा परिवार सोया हुआ था। तो अचानक घर में आग लग गई। चारों तरफ धुआं फैल गया। जटवानी परिवार के सदस्य की आंख खुली तो सभी घबरा गए ।जिसके बाद यशपाल जटवानी और उनके भाई पत्नियों और बेटियों को पहली मंजिल पर भेज दिया। जिसके बाद दोनों भाई मिलकर अपने प्रयासों के जरिए आग को बुझाने लग गए।

सेक्टर 14 के मकान में लगी आग पुलिस की सूझबूझ से बची सभी लोगों की जान

लेकिन थोड़ी देर बाद आग ज्यादा बढ़ गई। जिसकी वजह से दोनों भाई तुरंत घर से बाहर निकल गए। लेकिन उनकी पत्नियां व बेटियां घर की पहली मंजिल पर फसल हुए थे। इसी दौरान सेक्टर के सिक्योरिटी गार्ड ने पुलिस चौकी को इसकी सूचना दे दी। सेक्टर 14 प्रभारी प्रवीण भारद्वाज व उनकी टीम तुरंत मौके पर पहुंच गई।

उन्होंने परिवार को सुरक्षित घर से बाहर निकाला। उन्होंने देखा कि उनकी परिवार की महिलाएं और बच्चियां घर की पहली मंजिल पर फंसी हुई है। तो उनकी टीम ने साथ वाले मकान पर जाकर उन सभी औरतों व बच्चियों को सकुशल बचा लिया। इस दौरान फायर ब्रिगेड की टीम भी मौके पर पहुंच चुकी थी। करीब 1 घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया।

यशपाल जटवानी का कहना है कि उनका फर्नीचर तो चल गया है। लेकिन उनकी किसी प्रकार के जानमाल के नुकसान नहीं हुई है। इसलिए पुलिस का आभार व्यक्त करते हैं। अगर पुलिस समय पर नहीं आती है। तो कोई बड़ी घटना होने की संभावना बढ़ जाती।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...