Homeप्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना: बदल सकता है सब्सिडी से जुड़ा ये नियम, जानिए...

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना: बदल सकता है सब्सिडी से जुड़ा ये नियम, जानिए फायदा होगा या नुकसान

Published on

भारत सरकार सभी के लिए कई योजनाएं चला रही है। इन योजनायों का लाभ सभी वर्ग के लोग कर सकते हैं। उज्ज्वला योजना सरकार की काफी अपेक्षित योजनाओं में से एक रही है। इस योजना के तहत गरीब परिवारों को मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन दिया जाता है। सरकार इस योजना के तहत ऐसे परिवारों की गैस सिलेंडर लेने के लिए आर्थिक मदद भी करती है।

देश के सभी कोनों से इस योजना का लाभ जनता उठा रही है। सरकार का प्रयास भी यही है। अगर आप भी इस योजना के तहत फ्री गैस कनेक्शन लेना चाहते हैं तो पहले यह खबर पढ़ लें। असल में उज्ज्वला योजना में एक बड़ा बदलाव हो सकता है। ये बदलाव सब्सिडी के नियम से जुड़ा है।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना: बदल सकता है सब्सिडी से जुड़ा ये नियम, जानिए फायदा होगा या नुकसान

गरीब तबकों के घर पहले बस चूल्हा हुआ करता था लेकिन अब समय बदल गया है। बहरहाल, उज्जवला योजना के नए नियम आ सकते हैं। इन पर काम जारी और इन्हें बहुत जल्द लागू किया जा सकता है। गौरतलब है कि जो बदलाव हो सकता है वो एडवांस भुगतान मॉडल का है। अभी होता यह है किएडवांस पेमेंट राशि ईएमआई में ले लेती हैं। मगर बहुत नये नियम के अनुसार आपसे ये पैसा एक साथ लिया जाएगा।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना: बदल सकता है सब्सिडी से जुड़ा ये नियम, जानिए फायदा होगा या नुकसान

इस योजना का लाभ उठाने वाले लोगों की फेहरिस्त काफी लंबी है। लाखों परिवार इसका लाभ उठा रहे हैं। अब इस योजना के तहत सरकार आपको बतौर सब्सिडी 1600 रु देगी। मगर एडवांस पेमेंट के लिए आपको एक साथ पैसा देना होगा। बता दें कि इस साल के बजट में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 करोड़ और लोगों को उज्जवला योजना के तहत एलपीजी कनेक्शन देने का प्रस्ताव रखा था।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना: बदल सकता है सब्सिडी से जुड़ा ये नियम, जानिए फायदा होगा या नुकसान

जिन घरों में पहले सिलेंडर पहुंचना संभव नहीं था अब वो कार्य हो रहा है। सरकार की यह योजना काफी महत्त्वपूर्ण जाती है। सरकार की इस योजना में ग्राहकों को 14.2 किलो का सिलेंडर और चूल्हा मिलता है, जिसकी कीमत करीब 3200 रुपये होती है। सरकार बतौर सब्सिडी 1600 रुपये की मदद देती है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...