Online se Dil tak

क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी

जहां एक और स्वास्थ्य विभाग लोगों को कह रहा है कि वह मास्क और 2 गज की दूरी का इस्तेमाल करें। वही स्वास्थ्य विभाग के सेंटरों पर टेस्टिंग के दौरान ना तो 2 गज की दूरी के सवाल किया जा रहा है और ना ही कर्मचारी की पी पी ई किट पहनकर टेस्ट कर रहे हैं।

गुरुवार को पहचान फरीदाबाद की टीम के द्वारा जिले के 3 बड़े अस्पतालों किस टेस्टिंग ब्रांच की जांच की गई। जिसमें पाया कि दो अस्पतालों में तो पी पी ई किट मैंने बिना ही लोगों की टेस्टिंग की जा रही है। सेक्टर 3 स्थित एफ आर यू में जहां एक और लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है।

क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी
क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी

वहीं बाहर खुले ग्राउंड में लोगों की कोविद की जांच की जा रही है। लेकिन अगर हम टेस्टिंग के बात करें तो टेस्टिंग जो भी कर्मचारी कर रहा है वह ना तो पीपीई किट का इस्तेमाल कर रहा है और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का।

क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी
क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी

अगर हम साल 2020 के टेस्टिंग की बात करें तो इस दौरान सभी स्वास्थ्य केंद्र वालों में पीपीई किट पहनकर व एक कमरे के अंदर से टेस्टिंग की जा रही थी।

लेकिन अब वह सब बंद कर दिया गया है। अब कर्मचारी जिस व्यक्ति की टैक्सीन करनी होती है उसको अपने पास वाली कुर्सी पर बिठा कर टेस्टिंग कर रहा है। इसके बाद जब हम भी के अस्पताल के टेस्टिंग सेंटर पर पहुंचे तो वहां पर भी दो जगह टेस्टिंग की जा रही थी।

क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी
क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी

जिसमें दोनों जगहों पर दोनों कर्मचारियों के द्वारा ना तो पी पी ई न किट पहनी हुई थी और ना ही हाथों में क्लास पहले हुए थे।

वही वहां मौजूद लोगों के द्वारा मास्क तो लगा हुआ था। लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का प्रयोग नहीं किया हुआ था। इसके अलावा बी के अस्पताल की टेस्टिंग सेंटर पर कुछ ऐसे मरीज भी पाए गए जो कि गंभीर रूप से बीमार थे और उनको को टेस्टिंग के लिए भेजा गया था। लेकिन सेंटर पर बैठने की कोई सुविधा नहीं होने की वजह से वह मरीज नीचे जमीन पर बैठे हुए मिले।

क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी
क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी

इसके अलावा एनआईटी तीन नंबर ई एस आई सी मेडिकल कॉलेज अस्पताल की पुरानी बिल्डिंग में कोविद की टेस्टिंग की जा रही है। जहां पर जिस व्यक्ति का टेस्ट किया जा रहा है वह व्यक्ति अस्पताल के बाहर खुले में खड़े होकर टेक्स्ट करवा रहा है। वही जो कर्मचारी टेस्ट कर रहा है उसने पूरी पी पी ई टिकट पहनी हुई है।

क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी
क्या कोविद को खेल समझ रहे हैं टेस्टिंग कर्मचारी

वह अस्पताल के अंदर खिड़की के जरिए टेस्ट कर रहा है। ईएसआई मेडिकल कॉलेज व अस्पताल रजिस्ट्रार डॉ एके पांडे ने बताया कि वह पूरी तरह से सेफ्टी पर ध्यान दिया गया है। 2 गज की दूरी को भी अपनाया जा रहा है। उनके द्वारा जा टेस्टिंग की जा रही है वहां पर पूरी तरह से सावधानी बरती जा रही है। क्योंकि कर्मचारियों की सेफ्टी सबसे महत्वपूर्ण है। इसीलिए उनको हर प्रकार की सुविधा मुहैया कराई हुई है।

Read More

Recent