HomeCrimeअगर आपके पास है बुलेट तो यह खबर है काम की, सरकार...

अगर आपके पास है बुलेट तो यह खबर है काम की, सरकार ने लागू किए नए नियम जानिए क्या

Published on

अगर आप बस बुलेट है तो आपके लिए यह खबर बहुत ही महत्वपूर्ण है। क्योंकि जिले के दिन प्रतिदिन बुलेट चालकों के धड़ल्ले से चालान काट रही है। जिसकी वजह से चालकों को अपनी बाइक थाने में खड़े कर कर पैदल ही घर जाना पड़ रहा है। पुलिस के द्वारा बुलेट बाइक के द्वारा छोड़े जाने वाले पटाखों के चालान काटे जा रहे हैं।

लेकिन उन पटाखों के अलावा अगर किसी चालक के पास बुलेट बाइक के किसी प्रकार का कोई भी कागज मौजूद नहीं है, तो उसके चालान भी काटे जा रहे हैं। एक बुलेट बाइक का चालान कम से कम 40 से ₹50000 का होता है।

अगर आपके पास है बुलेट तो यह खबर है काम की, सरकार ने लागू किए नए नियम जानिए क्या

क्योंकि अगर हम पटाखों की बात करें तो उसकी चालान ₹10000 का है। वहीं साइलेंसर का चालान भी ₹10000 का है। इसके अलावा आर सी, लाइसेंस, पोलूशन, इंश्योरेंस आदि  पेपर पूरे नहीं होने की वजह से यह चालान 40 से ₹50000 तक पहुंच जाता है। पुलिस के द्वारा जहां एक और चालान किए जा रहे हैं।

अगर आपके पास है बुलेट तो यह खबर है काम की, सरकार ने लागू किए नए नियम जानिए क्या

वहीं दूसरी और चालक का लाइसेंस भी 3 महीने के लिए रद्द किया जा रहा है। ट्रैफिक पुलिस वालों ने बताया कि उनके द्वारा अभी तक जितने भी बुलेट के चालान किए गए हैं। उन्होंने बताया कि जिन भी बुलेट के चालान किए गए हैं। उनके चालकों के भी लाइसेंस 3 महीने के लिए रद्द कर दिए गए हैं। जिसकी वजह से चालक 3 महीने तक किसी भी प्रकार का कोई भी वाहन नहीं चला सकता है।

अगर आपके पास है बुलेट तो यह खबर है काम की, सरकार ने लागू किए नए नियम जानिए क्या

अगर वह वहां चलाता है तो उस पर भारी जुर्माना लग सकता है। उन्होंने बताया कि वह लाइसेंस वाला चालान भी कोर्ट में जाता है। जिसके बाद कोर्ट डिसाइड करता है कि चालक को कितने दिन ट्रेनिंग लेनी चाहिए। जिसके चलते 4 घंटे की ट्रेनिंग वीडियो को देखकर वाहन चलाना सीखते हैं।

उन्होंने बताया कि अभी तक 150 चालान किया जा चुके है। जिनके लाखों रूपए का चालान किया जा चुकी है। उन्होंने बताया कि इनमें से चालकों के 3 महीने के लिए रद्द कर दिए गए हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...