HomeCrimeगलत संगत में पड़ने की वजह से बना अवैध शराब का कारोबार

गलत संगत में पड़ने की वजह से बना अवैध शराब का कारोबार

Published on

फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच सेक्टर 65 की टीम ने अवैध नशे के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई करते हुए गाड़ी में 107 पेटी अवैध शराब सहित आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम काशीराम है जो फरीदाबाद के सेक्टर 17 का रहने वाला है।

आरोपी नशा करने का आदी है और गलत संगत में पड़ने के कारण अवैध शराब का धंधा करने लगा था। आरोपी फरीदाबाद से अवैध शराब ले जाकर दिल्ली के सरिता विहार की झुग्गियों में सप्लाई करता था।

गलत संगत में पड़ने की वजह से बना अवैध शराब का कारोबार

पुलिस को गुप्त सूत्रों की सहायता से सूचना मिली थी कि आरोपी फरीदाबाद से दिल्ली शराब की सप्लाई करने जाएगा जिसपर तुरंत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच 65 की टीम ने एनएचपीसी चौक पर नाका लगाकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी के कब्जे से पिकअप गाड़ी में अवैध शराब की 107 पेटी जिसमें 1284 बोतलें शामिल थी, बरामद की गई है। इसमें देसी शराब संतरा की 80 पेटी, अंग्रेजी शराब 20-20 की 10 पेटी, ब्लू मूड की 7 पेटी और 10 पेटी किंगफिशर बियर की बरामद की गई।

गलत संगत में पड़ने की वजह से बना अवैध शराब का कारोबार

पुलिस ने पिकअप गाड़ी को भी अपने कब्जे में ले लिया है।

आरोपी को गिरफ्तार करके उसके खिलाफ थाना सराय ख्वाजा में एक्साइज एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

पूछताछ करने के पश्चात आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...