Online se Dil tak

जिला प्रशासन के लाख प्रयासों के बाद भी नहीं थम रहा फरीदाबाद में कोरोना का कहर

फरीदाबाद को कोरोना से निजाद पाना मुश्किल साबित हो रहा हैं रोज भारी तादाद में कोरोना मरीजो की संख्या में इजाफा हो रहा हैं शनिवार सुबह ही फरीदाबाद जिले में 20 नए कोरोना पॉजीटिव केस सामने आते ही यह आंकड़ा 327 पर पहुंच गया है

जिला प्रशासन चाहे कितने ही दावे क्यों ना कर ले कि कोरोना से बचाब किया जा रहा हैं लार आंकड़े कुछ और ही कहे रहे है जिला प्रशासन द्वारा जनता को बचाने के इतने प्रयास किए जा रहे हैं तब ना जाने क्यों कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ रहा है।

कोरोना से बचने के लिए लोगों को चाहिए कि वे फेस मास्क का प्रयोग करें व सोशल डिस्टेंस बनाए रखें।जबकि शुक्रवार की रात तक यह गिनती 307 पर थी। इसके बावजूद लोग सुधरने व जागरूक होने के लिए तैयार नहीं हैं।

शनिवार को संजय कालोनी सेकटर 23, पर्वतीया कालोनी, गांव मच्छगर बल्लभगढ़, डबुआ कालोनी, पालम नगर सिटी सेकटर 17,बाटा कालोनी पार्ट दो फरीदाबाद, आरकयू स्कूल कालोनी , भाटू कालोनी पार्ट दो, गांव औरंगाबाद पलवल,कल्याणपुरी कालोनी, सैकटर 23 संजय कालोनी नजदीक एडीएफसी एटीएम, नौला रोड जवाहरलाल कालोनी, नोधी एंकलेव सैकटर 29, भगतसिंह कालोनी सेकटर 5, मणि की टाल डबुआ कालोनी, संजय कालोनी सैकटर 23, डबुआ कालोनी व एक अन्य को सकंरमित होने के चलते कोविड सेंटर में लाया गया है।

इनमें से कुछ को होम आईसोलेशन में रहने की सलाह दी गई है। बता दें कि शुक्रवार को 1 कोरोना पॉजीटिव बुजुर्ग की मौत के बाद फरीदाबाद जिले में 8 लोग इस बीमारी से दम तोड़ चुके हैं।

उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डा. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 11260 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 3635 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है।

जिला प्रशासन के लाख प्रयासों के बाद भी नहीं थम रहा फरीदाबाद में कोरोना का कहर
जिला प्रशासन के लाख प्रयासों के बाद भी नहीं थम रहा फरीदाबाद में कोरोना का कहर

शेष 820 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 54 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 11911 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 10859 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 725 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 327 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 112 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा 54 पॉजिटिव मरीजों को घर पर आइसोलेट किया गया है।

इसी प्रकार ठीक होने के बाद 153 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। अब तक 8 मरीजों की मौत हो चुकी है जिसमें कोरोना के साथ-साथ अन्य विभिन्न बीमारियां भी कारण रही।

उन्होंने बताया कि सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसी प्रकार पर्यावरण स्वच्छता और शुद्धीकरण के बारे में सरकारी व निजी विभागों के कर्मचारियों को दैनिक आधार पर प्रशिक्षण दिया जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण की पृष्ठभूमि को देखते हुए आम जनता को सरकार द्वारा स्वास्थ्य संबंधी हिदायतों की अनुपालना करने की सलाह दी जाती है।

जिला प्रशासन के लाख प्रयासों के बाद भी नहीं थम रहा फरीदाबाद में कोरोना का कहर
जिला प्रशासन के लाख प्रयासों के बाद भी नहीं थम रहा फरीदाबाद में कोरोना का कहर

लोगो को ध्यान रखना चाहिए कि खाँसी व छींकते समय रूमाल या तौलिया का उपयोग अवश्य करें, हाथों को बार-बार साबुन व पानी से धोते रहें।

जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से बाहर न निकलें। सार्वजनिक स्थलों व सभाओं में जाने से बचें। जिन लोगों ने हाल ही में कोरोना प्रभावित देशों की यात्रा की है, उन्हें राष्ट्रीय, राज्य या जिला हेल्पलाइन नंबरों पर सूचना देनी चाहिए, उन्हें भारत में आगमन की तारीख से 28 दिनों

Read More

Recent