Pehchan Faridabad
Know Your City

गर्भ में लड़की होने पर अपने ही क्लीनिक में कर देते थे अबॉर्शन

लड़का लड़की एक समान होते हैं। लेकिन आज भी कुछ जगहों पर बेटे को ज्यादा अहमदिया जाती है। इसी के चलते गर्भवती महिलाएं परिवार के दबाव में आकर भ्रूण जांच के लिए आगे आती है। लेकिन उसी बात को रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा आए दिन रोड की जाती है।

ऐसा ही एक मामला सोमवार की देर रात बल्लभगढ़ भगत सिंह कॉलोनी स्थित चौहान क्लीनिक में भी पाया गया। सीएमओ पलवल को सूचना मिली थी कि बल्लभगढ़ के भगत सिंह कॉलोनी में भ्रूण जांच की जाती है। जिसके बाद उन्होंने यह सूचना सीएमओ फरीदाबाद को दी।

दोनों जिले के डॉक्टरों के द्वारा एक जॉइंट टीम का गठन किया गया। जिसमें डॉ प्रवीण, डॉ प्रियंका, डॉ कृष्ण कुमार, डॉक्टर हरजिंदर, डॉक्टर हरीश व डॉक्टर स्वरनूर टीम में शामिल थे। उनके द्वारा एक नकली ग्राहक को तैयार किया गया। नकली ग्राहक के हस्बैंड का नाम सुरेंद्र है।

नकली ग्राहक के पति सुरेंद्र ने अंजू चौहान उसके पति डॉ सुरेंद्र पाल चौहान को  मोबाइल नंबर पर संपर्क किया। नकली ग्राहक के पति ने उसको बताया कि उसकी पत्नी करीब 5 महीने की गर्भवती है। जिसके बाद अंजू चौहान ने यह सारी बात सुरेंद्र पाल चौहान अपने पति को बताएं और उसके पति सुरेंद्र पाल चौहान ने भ्रूण जांच के लिए ₹15000 रुपए में बातें हो गई।

इसके बाद सुरेंद्र अपनी पत्नी को भगत सिंह कॉलोनी बल्लभगढ़ स्थित चौहान क्लीनिक पर लेकर गया। इसके बारे में सुरेंद्र में डॉक्टर प्रवीण नोडल ऑफिसर पलवल को सूचना दे दी थी। सोमवार की दोपहर 2:00 बजे पलवल की टीम ने फरीदाबाद की टीम को ज्वाइन कर लिया था।

इसके बाद पलवल की टीम ने नकली ग्राहक को 2000 के 6 व 500 के 6 नंबरी नोट दिए। करीब 4:00 बजे नकली ग्राहक अपने पति के साथ सुरेंद्र चौहान क्लीनिक पर पहुंचे। जहां पर डॉक्टर सुरेंद्र व उसकी पत्नी अंजू मौजूद थे। डॉ सुरेंद्र चौहान ने नकली ग्राहक को एक मैप बना कर दिया।

जिसमें उन्होंने बताया कि उनको कैसे कैसे किस रास्ते से कहां जाना है और वहां पर डॉक्टर अमित कुमार मिलेंगे। जो कि उनका भ्रूण जांच करेंगे। डॉक्टर अमित कुमार के पास unregistered ultrasound machine। जिसके बाद नकली ग्राहक और उसके पति सुरेंद्र को कहा कि वह वहां जाकर डॉक्टर अमित कुमार से मिले।

उन्होंने एक मैप के जरिए उनको डॉक्टर अमित कुमार का पता दिया जो कि village bahini district sambhal up का दिया। डॉक्टर सुरेंद्र पाल और उसकी पत्नी अंजू ने कहा कि वह 13 अप्रैल को सुबह 9:00 बजे उक्त पते पर पहुंच जाएं।

इसके बाद नकली ग्राहक के पति सुरेंद्र ने टीम को इशारा कर दिया और टीम ने मौके पर पहुंचकर डॉ सुरेंद्र चौहान और उसकी पत्नी अंजू चौहान को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने एफ आई आर दर्ज कर सुरेंद्र चौहान और अंजू चौहान को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। दोनों को कोर्ट में पेश करने के बाद यूपी के जगह पर पुलिस के द्वारा छापेमारी की जाएगी।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More