HomeFaridabadजिले वासियों को जल्द मिलेगी तीसरी वैक्सीन, इस अस्पताल में हुआ था...

जिले वासियों को जल्द मिलेगी तीसरी वैक्सीन, इस अस्पताल में हुआ था ट्रायल

Published on

दुनिया की सबसे पहली कोरोना वैक्सीन होने का दावा करने वाले स्पुतनिक वी भी को भी अब भारत में उपलब्ध हो सकेगी। क्योंकि भारत सरकार की वैक्सीन को लेकर बने सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी ने स्पूतनिक भी की एमरजैंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है।

फरीदाबाद में भी  स्पुतनिक वी का ट्रायल सेशन एनआईटी तीन नंबर स्थित ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में किया गया था। स्पुतनिक वी ट्रायल सेशन के नोडल ऑफिसर डॉक्टर संकल्प झा ने बताया कि ईएसआईसी मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में जहां कोवैक्सीन का ट्रायल सेशन किया गया था। वही स्पूतनिक भी काफी ट्रांसलेशन किया गया था।

जिले वासियों को जल्द मिलेगी तीसरी वैक्सीन, इस अस्पताल में हुआ था ट्रायल

उन्होंने बताया कि जिले के करीब डेढ़ सौ लोगों को स्पुतनिक वी वैक्सीन की डोज़ लगाई गई है। इस वैक्सीन की भी दो डोज़ लगाई जाती है। भारत में अभी को वैक्सीन व कोविशिएल्ड को इमरजेंसी में इस्तेमाल करने के लिए परमिशन दी गई थी। लेकिन अब स्पुतनिक वी को भी इमरजेंसी यूज़ की मंजूरी दे दी गई है। भारत दुनिया का 60 देश है जिसने स्पूतनिक वी को मंजूरी दी है।

दूसरी डोज़ 21 दिन के बाद लगेंगे

जिले वासियों को जल्द मिलेगी तीसरी वैक्सीन, इस अस्पताल में हुआ था ट्रायल

जैसे की हम सभी जानते हैं कि अगर किसी व्यक्ति ने कोवैक्सीन की डोज लगवाई है। तो उसको दूसरी डोस 28 दिनों के बाद लगेगी। वहीं कोविशिएल्ड की वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्ति को दूसरी दोस्त 6 से 8 हफ्ते के बाद लगेगी।

लेकिन स्पुतनिक वी की जो दूसरी डोज़ है वह 21 दिन के बाद लगाई जाएगी। हर वैक्सीन की दूसरी डोज का समय अलग-अलग निर्धारित किया गया है। जिससे कि किसी भी व्यक्ति को किसी प्रकार की कोई परेशानी और कन्फ्यूजिंग का सामना ना करना पड़े।

13 के लिए नहीं चाहिए कोई भी कोल्ड चैन इंफ्रास्ट्रक्चर

जैसे की हम सभी जानते हैं को वैक्सीन और कोविशिएल्ड वैक्सीन को रखने के लिए हमें कोल्ड चैन का इंफ्रास्ट्रक्चर चाहिए होता है। लेकिन स्पूतनिक वी वैक्सीन को रखने के लिए हमें किसी प्रकार का गोल्ड चेन इंफेक्शन नहीं चाहिए होता है। यह वैक्सीन दो से 8 डिग्री सेल्सियस तापमान पर दूर किया जा सकता है।

Latest articles

चैत्र नवरात्रे से पहले मंदिर और बाजारों में दिखी रौनक

Faridabad: चैत्र नवरात्रे के शुरू होने के साथ ही मंदिर और बाजारों में भक्तों...

फरीदाबाद में कुत्तों का आतंक, तीन साल की बच्ची पर किया हमला, हालत गंभीर

Faridabad: बल्लभगढ़ राजीव कॉलोनी में रविवार की देर रात को घर के बाहर खेल...

करोड़ों को संपत्ति के मालिक हैं आज संजय मिश्रा, फिर भी जीते है साधारण सी जिंदगी

बॉलीवुड जगत में अपनी एक्टिंग के लिए विख्यात संजय मिश्रा ने छोटे और बड़े...

दरोगा बनकर अपने पिता से खेतों में मिलने पहुंची बेटी, वीडियो देख कर आ जायेगे आसूं

अपने बच्चों की सफलता पर हर माता-पिता का सीना गर्व से फूल जाता है।...

More like this

चैत्र नवरात्रे से पहले मंदिर और बाजारों में दिखी रौनक

Faridabad: चैत्र नवरात्रे के शुरू होने के साथ ही मंदिर और बाजारों में भक्तों...

फरीदाबाद में कुत्तों का आतंक, तीन साल की बच्ची पर किया हमला, हालत गंभीर

Faridabad: बल्लभगढ़ राजीव कॉलोनी में रविवार की देर रात को घर के बाहर खेल...

करोड़ों को संपत्ति के मालिक हैं आज संजय मिश्रा, फिर भी जीते है साधारण सी जिंदगी

बॉलीवुड जगत में अपनी एक्टिंग के लिए विख्यात संजय मिश्रा ने छोटे और बड़े...