HomeFaridabadमहामारी की संजीवनी बूटी को व्यर्थ करने में हरियाणा अव्वल, इस तरह...

महामारी की संजीवनी बूटी को व्यर्थ करने में हरियाणा अव्वल, इस तरह से हो रहा वैक्सीन का दुरुपयोग

Published on

एक ओर दिन प्रतिदिन पॉजिटिव मरीजों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है। जिसके बाद विभाग के द्वारा दूरदराज से आए लोगों के टेस्टिंग की जा रही है और उनको निर्देश भी दिए जा रहे हैं कि क्वॉरेंटाइन होकर अपने व अपने आसपास रहने वाले लोगों को सुरक्षित रख सकते हैं।

इसके अलावा दूसरे राज्यों से आए लोगों को निर्देश दिए जा रहे हैं कि वह घर पर ही रहे। वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा टीकाकरण अभियान को तेज किया जा रहा है । टीकाकरण अभियान में लोगों के द्वारा टीका तो लगवाया जा रहा है। लेकिन वह टीका अपनी सहूलियत के अनुसार लगवाने के लिए आ रहे हैं।

महामारी की संजीवनी बूटी को व्यर्थ करने में हरियाणा अव्वल, इस तरह से हो रहा वैक्सीन का दुरुपयोग

जिसकी वजह से हरियाणा में सबसे ज्यादा वैक्सीन व्यर्थ हो रही है। अगर हम आंकड़ों की बात करें तो हरियाणा पूरे देश भर में नंबर वन पर है। जिसने अब तक करीब 9% वैक्सीन व्यर्थ की है। ऐसा नहीं है कि देश के अन्य राज्यों में वैक्सीन व्यर्थ नहीं हो रही है। वहां पर भी वैक्सीन व्यर्थ हो रही है। लेकिन हरियाणा में सबसे ज्यादा व्यर्थ की जा रही है।

महामारी की संजीवनी बूटी को व्यर्थ करने में हरियाणा अव्वल, इस तरह से हो रहा वैक्सीन का दुरुपयोग

फरीदाबाद जिले के टीकाकरण अभियान के नोडल ऑफिसर डॉ रमेश का कहना है कि एक वॉयल से 10 लोगों को वैक्सीन लगाई जाती है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक व्यक्ति को 0.5ml वैक्सीन लगाई जाती है। एक वॉयल में 5ml वैक्सीन आती है। उन्होंने बताया कि जब भी स्वास्थ्य कर्मचारी के द्वारा वैक्सीन की वॉयल को खोलता है। तो उस वैक्सीन की वॉयल को 4 घंटे के अंदर इस्तेमाल करना होता है।

अगर वह 4 घंटे के अंदर उस वैक्सीन वॉयल को इस्तेमाल नहीं कर पाते हैं। तो वह वैक्सीन व्यर्थ हो जाती है। उन्होंने बताया कि लोगों के द्वारा टीकाकरण अभियान में भाग तो लिया जा रहा है। लेकिन वह अपने समय और सुविधा के अनुसार ही सेंटर पर आकर वैक्सीन को लगा रहे हैं।

महामारी की संजीवनी बूटी को व्यर्थ करने में हरियाणा अव्वल, इस तरह से हो रहा वैक्सीन का दुरुपयोग

उन्होंने बताया कि ज्यादातर लोग सुबह व शाम के समय आते हैं। लेकिन दोपहर के समय गर्मी होने की वजह से वह वैक्सीन सेंटर पर नहीं आ पा रहे हैं। जिसकी वजह से दोपहर के समय अगर कोई वैक्सीन की वॉयल खोली जाती है और 4 घंटे के अंदर अगर उसका उपयोग नहीं किया जाता है, तो वह व्यर्थ हो जाती है।

इसी वजह से जो आंकड़ा सामने आए हैं उसमें हरियाणा नंबर वन पर पाया गया है। देश के हर राज्य में वैक्सीन व्यर्थ हो रही है। उसका मुख्य कारण सिर्फ यही है कि पर्याप्त समय पर उम्मीदवार नहीं मिलने के कारण डोज़ खराब हो जाती है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...