HomeFaridabadफरीदाबाद की इस बेटी ने यूपी में दिखाया दमखम, जिला पंचायत अधिकारी...

फरीदाबाद की इस बेटी ने यूपी में दिखाया दमखम, जिला पंचायत अधिकारी के रूप में नियुक्त

Published on

एक अलग ही एहसास होता है जब कुछ ऐसा कर गुजरने का ठान लो और वास्तव में वह हकीकत का रूप ले आपके सामने प्रस्तुत हो जाए, तो आपको खुद ब खुद यकीन नहीं होता कि आपकी मेहनत रंग ले आई है।

कई बार यह मेहनत आपके और आपके परिवार तक सीमित रह जाते हैं। वहीं जब आपकी मेहनत आपके जिले से निकलकर दूसरे जिले तक पहुंच जाए तो खुशी का ठिकाना तक नहीं रहता।

फरीदाबाद की इस बेटी ने यूपी में दिखाया दमखम, जिला पंचायत अधिकारी के रूप में नियुक्त

ऐसा ही कुछ फरीदाबाद सेक्टर डी निवासी बी पी जोशी की पुत्री सुबोध जोशी ने कर दिखाया है। दरअसल, सुबोध में यूपीपीएससी (उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग) की परीक्षा उत्तीर्ण कर औद्योगिक जिले का नाम रोशन किया है।

जिसके बाद अब वो दिन दूर नही जब लखनऊ में प्रशिक्षण के बाद सुबोध को उत्तर प्रदेश के किसी जिले की जिला पंचायत अधिकारी के रूप में नियुक्ति मिलेगी।

फरीदाबाद की इस बेटी ने यूपी में दिखाया दमखम, जिला पंचायत अधिकारी के रूप में नियुक्त

सुबोध जोशी वही छात्र है जिसने जामिया मिलिया इस्लामिया कालेज से 2010 में बायो कैमेस्ट्री में एमएससी स्वर्ण पदक के साथ पहले चार बार यूपीपीएससी की परीक्षा दी थी, दो बार साक्षात्कार तक भी पहुंचीं, पर सफलता हासिल न हो सकी।

निराश होने की बजाय सुबोध ने फिर से नए सिरे से तैयारी की और अबकी बार सफलता हासिल कर ही ली। सुबोध कहती हैं कि 2015 में प्रशासनिक सेवा में जाने की नीयत से तैयारी शुरू की थी। पिता बीपी जोशी व माता संतोष ने हर कदम पर हौसला बढ़ाया। संतोष जोशी कहती है

फरीदाबाद की इस बेटी ने यूपी में दिखाया दमखम, जिला पंचायत अधिकारी के रूप में नियुक्त

कि बेटी की लगातार असफलता ने उन्हें मायूस कर दिया था और मुस्कुराना तो भूल ही गई थीं। हर बार परिणाम का बड़ी उत्सुकता से इंतजार करते थे, इस बार भी परिणाम को लेकर उत्सुक थे और अब चैत्र नवरात्र से ठीक पहले परिणाम घोषित हुआ,

तो मां दुर्गा के आशीर्वाद से बेटी सुबोध की मेहनत सफल होने की सूचना आई। अब संतोष जोशी के चेहरे पर मुस्कान लौट आई है। सुबोध राजस्थान प्रशासनिक सेवा की भी तैयारी कर रही हैं। बहुत लोगों का सफलता में योगदान

सुबोध अपनी सफलता का श्रेय खुद की मेहनत के अलावा माता-पिता के कदम-कदम पर मिले सहयोग व बड़ी बहन शरद जोशी को देती हैं। शरद जोशी राजस्थान व उत्तराखंड की पूर्व राज्यपाल मार्गेट अल्वा की कानूनी सलाहकार भी रह चुकी हैं। सुबोध ने अपनी सफलता में शिक्षकों की भूमिका को भी अहम बताया।

फरीदाबाद की इस बेटी ने यूपी में दिखाया दमखम, जिला पंचायत अधिकारी के रूप में नियुक्त

वहीं सुबोध जोशी की इस प्रसंशनीय सफलता पर फरीदाबाद के केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर से लेकर प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा, विधायक नयनपाल रावत, नीरज शर्मा, सीमा त्रिखा, प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुमित गौड़, भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व चेयरमैन सुरेंद्र तेवतिया,

पूर्व विधायक आनंद कौशिक व टेकचंद शर्मा, कांग्रेस के पूर्व प्रदेश सचिव सत्यवीर डागर व पूर्व महासचिव बलजीत कौशिक, राजन ओझा, पार्षद कपिल डागर, सुनील तेवतिया, अनिल तेवतिया, डा.तेजपाल शर्मा, बृजमोहन वत्स ने भी बधाई दी है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

पुलिस का दुरूपयोग कर रही है भाजपा सरकार-विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 26 फरवरी को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने बहादुरगढ में...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...