HomePoliticsपंचायत चुनाव से पहले वार्ड बंदी के लिए पहली बार इन दो...

पंचायत चुनाव से पहले वार्ड बंदी के लिए पहली बार इन दो गांव का नाम चयनित

Published on

फरीदाबाद खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी प्रदीप कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि इस बार हरियाणा में आयोजित होने वाले पंचायत चुनाव से पहले 2 गांव में पंचों के वार्ड गठित कर दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इन गांवों को पंचायत का दर्जा देने के लिए पहली बार चयनित किया गया है।

उन्होंने बताया कि पंच वार्ड केवल संबंधित तहसीलदार के ही बनाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि पंचायत का दर्जा देने हेतु पंचायत चीरसी से पहली दफा सरकार ने कबूलपुर पट्टी परवरिश और ददसिया से किड़ावली को अगली पंचायत का दर्जा दे दिया है।

पंचायत चुनाव से पहले वार्ड बंदी के लिए पहली बार इन दो गांव का नाम चयनित
फरीदाबाद खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी प्रदीप कुमार

प्रदीप कुमार ने बताया कि पंचायत चुनाव से पहले तैयारी करने पर ध्यान केंद्रित करते हुए उक्त दोनों गांव में पहले तो पंच चुनाव के लिए वार्ड बंदी की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि यह वार्ड बंदी गांव की मतदाता संख्या को मध्य रखते हुए ही होगी।इसके अतिरिक्त इन गांवों में पंच वार्डों को दो वर्गों में विभाजित भी कर दिया जाएगा।

वर्गीकरण का उद्देश्य एक वर्ग अनुसूचित जाति के लिए और दूसरे अन्य वार्डों के लिए बनाए जाने से है। वार्ड बंदी होने के बाद सरकार को रिपोर्ट भेजी जाएगी। सरकार के स्तर पर सरपंच और पंच वार्ड को आरक्षित किया जाएगा।

पंचायत चुनाव से पहले वार्ड बंदी के लिए पहली बार इन दो गांव का नाम चयनित

इन गांवों के लोग वार्ड बंदी को लेकर खासे उत्साहित हैं, क्योंकि अब तक सरपंच दूसरे गांव के बन जाते थे। इन गांवों की मतदाता संख्या बड़े गांव की मतदाता संख्या के सामने कम पड़ती थी।

इन गांवों के मतदाताओं को अपने कार्य कराने हेतु सरपंच के पास दूसरे गांव में आवागमन करना होता था। अब ग्राम वासियों को इससे राहत मिलेगी क्योंकि अब उन्हें अपने कार्य कराने के लिए उनके ही गांव का सरपंच मिल जाएगा तो उन्हें दूरदराज किसी अन्य गांव में भटकना नहीं पड़ेगा।

पंचायत चुनाव से पहले वार्ड बंदी के लिए पहली बार इन दो गांव का नाम चयनित

इसके अलावा दोनों गांव में चुनाव लड़ने के इच्छुकों ने अपनी योजना को अमलीजामा पहनाने के लिए काम शुरू कर दिया है। हमें दो गांव में पंचों की वार्ड बंदी करानी है। ये वार्डबंदी तहसीलदार द्वारा की जाएगी। पंचायती राज अधिनियम के अनुसार तहसीलदार सर्कल अधिकारी होता है।

Latest articles

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...

Haryana के इस शख्स ने किया Bollywood के सुपरस्टार ऋतिक रोशन के साथ काम, इससे पहले भी कर चुके है कई फिल्मों में काम

प्रदेश के युवा या बुजुर्ग सिर्फ़ खेल या शिक्षा के मैदान में ही तरक्की...

More like this

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित हुआ दो दिवसीय बसंतोत्सव

अरूणाभा वेलफेयर सोसायटी , फरीदाबाद द्वारा आयोजित दो दिवसीय बसंतोत्सव के शुभ अवसर पर...

आखिर क्यों बना Haryana के टीचर का फॉर्म हाउस पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय, यहां पढ़ें पूरी ख़बर

आज के समय में फॉर्म हाउस बनाना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरियाणा...

Faridabad का ये किसान थोड़ी सी समझदारी से आज कमा रहा लाखों, यहां जानें कैसे

आज के समय में देश के युवा शिक्षा, स्वास्थ आदि क्षेत्रों के साथ साथ...