HomeFaridabadसताएगी गर्मी या मारेगी महामारी, दोनों के बीच फंसकर रह गए हैं...

सताएगी गर्मी या मारेगी महामारी, दोनों के बीच फंसकर रह गए हैं फरीदाबादवासी

Published on

जिले में गर्मी का सितम लगातार जारी है। तापमान 38 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच चुका है और आने वाले दिनों में तापमान के 40- 42 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने के आसार हैं। गर्मियों के चलते लोगों ने घरों से बाहर निकलना कम कर दिया है।

महामारी के दौर में महामारी के साथ-साथ गर्मी से भी बचने की जरूरत है। गर्मियों में हीट स्ट्रोक का खतरा बना रहता है। ‌ छोटी सी लापरवाही भी बीमारियों से संबंधित बड़ी समस्या खड़ी कर सकती है। मौसम विभाग पहले ही पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष अधिक गर्मी पड़ने की आशंका जता चुका है ऐसे में लोगों को और भी ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है।

सताएगी गर्मी या मारेगी महामारी, दोनों के बीच फंसकर रह गए हैं फरीदाबादवासी

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की जिलाध्यक्ष डॉक्टर पुनीता हसीजा बताती है कि गर्मियों में लोगों को अपना विशेष ख्याल रखने की जरूरत है। एक तरफ महामारी का खतरा है वहीं दूसरी तरफ गर्मी ने भी सितम ढाया हुआ है। उन्होंने बताया कि बिना किसी कारण के घर से बाहर ना निकले और अगर घर से बाहर निकल भी रहे हैं तो महामारी के नियमों तथा गर्मी से संबंधित सावधानियों का विशेष ध्यान रखें। ‌

हल्के कपड़े पहने तथा ठंडे पेय पदार्थों का प्रयोग करें। मास्क का प्रयोग अवश्य करें। पानी का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें तथा अपने आप को हाइड्रेट रखें। शरीर में पानी की कमी ना होने दें वही सूती, ढीले व आरामदायक कपड़े पहने।‌ घर का बना हुआ भोजन खाएं। बाजार में बिक रहे कटे फल ना खाएं और धूप में ज्यादा ना रहे।

सताएगी गर्मी या मारेगी महामारी, दोनों के बीच फंसकर रह गए हैं फरीदाबादवासी

गर्मियों के साथ महामारी से भी बचने की है जरूरत
जिले में गर्मी के साथ-साथ महामारी भी अपने चरम पर है। महामारी के आंकड़े हजार के आंकड़े को छूने को तैयार है वहीं गर्मियों का सितम भी लगातार जारी है, ऐसे में लोगों को गर्मी तथा महामारी दोनों से बचने की जरूरत है।

Latest articles

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...

महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर रक्तदान कर बनें पुण्य के भागी : भारत अरोड़ा

श्री महारानी वैष्णव देवी मंदिर संस्थान द्वारा महारानी की प्राण प्रतिष्ठा दिवस के...

More like this

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

नृत्य मेरे लिए पूजा के योग्य है: कशीना

एक शिक्षक के रूप में होने और MRIS 14( मानव रचना इंटरनेशनल स्कूल सेक्टर...