HomeFaridabadटूटी हुई है टॉयलेट शीट और नही है पानी की टंकी, क्या...

टूटी हुई है टॉयलेट शीट और नही है पानी की टंकी, क्या सिर्फ नाम के लिए बनाए गए है स्मार्ट टॉयलेट

Published on

नगर निगम ने लोगों की सुविधाओं के लिए स्मार्ट टॉयलेट की व्यस्था की थी परंतु देखभाल के अभाव में इन टॉयलेट्स की स्थिति बद से बदतर हो गई है। इन स्मार्ट टॉयलेट की देखरेख में भी अनियमितता पाई गई है जिसको लेकर नगर निगम मेयर सुमन बाला ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को शिकायत पत्र लिखकर सीएम विजिलेंस जांच की मांग की थी। मांग को मान लिया गया था और अब स्मार्ट टॉयलेट्स की जांच चल रही है।

दरअसल, कुछ महीने पहले नगर निगम मेयर सुमन बाला को स्मार्ट टॉयलेट से संबंधित शिकायतें आ रही थी। शिकायत पर कार्यवाही करते हुए उन्होंने एसडीओ सुरेंद्र खट्टर को कई बार टॉयलेट का निरीक्षण करवाने के निर्देश दिए परंतु हर बार एसडीओ द्वारा बात को टाल दिया जाता था।

टूटी हुई है टॉयलेट शीट और नही है पानी की टंकी, क्या सिर्फ नाम के लिए बनाए गए है स्मार्ट टॉयलेट

मेयर ने एसडीओ को सख्त लहजे में निरीक्षण करवाने के आदेश दिए जिसके बाद एसडीओ द्वारा उन्हें एनआईटी 5 स्थित शौचालय का निरीक्षण कराया गया। निरीक्षण के दौरान मेयर सुमन वाला के द्वारा उनसे टॉयलेट की अनियमितताओं को लेकर सवाल पूछे गए जिस पर एसडीओ सुरेंद्र खट्टर ने मेयर के साथ दुर्व्यवहार किया तथा उन पर सरकार को बदनाम करने के आरोप लगाए।

इस घटना के सभी वार्ड पार्षदों में रोष देखने को मिला वही मेयर ने स्मार्ट टॉयलेट्स को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को पत्र लिखा तथा सीएम विजिलेंस जांच की मांग की।

टूटी हुई है टॉयलेट शीट और नही है पानी की टंकी, क्या सिर्फ नाम के लिए बनाए गए है स्मार्ट टॉयलेट

मेयर सुमन बाला ने बताया कि इस मामले की अभी जांच चल रही है। जैसे ही जांच पूरी होती है, सूचना को सार्वजनिक किया जाएगा।

गौरतलब है कि शहर के अलग-अलग हिस्सों में सीमेंटेड तथा प्री- फैबरीकेटेड टॉयलेट की व्यवस्था की गई है। ‌ इन टॉयलेट्स को लेकर नगर निगम के पास करोड़ों रुपए का फंड आया था परंतु फंड के बावजूद भी टॉयलेट की स्थिति बद से बदतर बनी हुई थी। कयास यह भी लगाए जा रहे थे कि स्मार्ट टॉयलेट्स फंड में भी नगर निगम के कनिष्ठ तथा वरिष्ठ अधिकारियों ने घपला किया गया है।

Latest articles

ओम शिक्षा संस्कार स्कूल में जोरों पर वार्षिक उत्सव की तैयारियां

Faridabad: ओम योग संस्थान द्वारा ग्राम पाली में ओम शिक्षा संस्कार स्कूल के वार्षिक...

मकान मालिक ने किरायेदार के बेटे का फाड़ा सिर, आधे दर्जन से ज्यादा लगे टाके

Faridabad: अजरौंदा गांव में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक...

फरीदाबाद: लाखों रूपये खर्च कर डिवाइडर को कंपनी बना रही हरा भरा

Faridabad: फरीदाबाद के ग्रीन बेल्ट पर हर साल लाखों पेड़ पौधे लगाए जाते हैं।...

अनोखी पहल: सैनिक कॉलोनी में बना एसटीपी प्लांट, मैनुअल तरीके से साफ हो रहा पानी

Faridabad: "जहां चाह वहां राह" यह कहावत सेव अरावली संस्था के सदस्यों पर बिल्कुल...

More like this

ओम शिक्षा संस्कार स्कूल में जोरों पर वार्षिक उत्सव की तैयारियां

Faridabad: ओम योग संस्थान द्वारा ग्राम पाली में ओम शिक्षा संस्कार स्कूल के वार्षिक...

मकान मालिक ने किरायेदार के बेटे का फाड़ा सिर, आधे दर्जन से ज्यादा लगे टाके

Faridabad: अजरौंदा गांव में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। जहां एक...

फरीदाबाद: लाखों रूपये खर्च कर डिवाइडर को कंपनी बना रही हरा भरा

Faridabad: फरीदाबाद के ग्रीन बेल्ट पर हर साल लाखों पेड़ पौधे लगाए जाते हैं।...