Pehchan Faridabad
Know Your City

विदेश में नौकरी पाने के चक्कर में गवाए लाखों रुपए

हर किसी व्यक्ति का सपना होता है कि वह भी एक दिन विदेश में जाकर अच्छी नौकरी करें इसके लिए वह अच्छी मेहनत करके अच्छे नंबर अंक लाकर अपने कॉलेज में टॉप भी करता है। लेकिन उसके बावजूद भी कई बार विदेश की कंपनियां उनको जॉब ऑफर नहीं करती है।

इसी वजह से वह किसी ऐसे दलाल के चक्कर में फंस जाते हैं। जो उन से लाखों रुपए तो ले लेते हैं। लेकिन उसके बावजूद भी उनको विदेश में नौकरी नहीं दिलाते हैं। ऐसा ही एक मामला फरीदाबाद में देखने को मिला है। जहां एक युवक के द्वारा विदेश में ईमेल के जरिए जॉब ऑफर लेटर मिल गया।

लेकिन उस लेटर बेस पर उस युवक से लाखों रुपए धोखाधड़ी करके हड़प लिया गया है। साइबर क्राइम फरीदाबाद से मिली जानकारी के अनुसार ग्रीन फील्ड कॉलोनी फरीदाबाद के रहने वाले शाकिब नौशाद ने बताया कि 17 नवंबर को उनको यूएसए बेस्ड कंपनी द्वारा एक जॉब ऑफर आया। जिसका नाम Ataason Gold Corporation है।

नके द्वारा इमेल इंटरव्यू दिया गया था। उसके बाद उनको ऑफर लेटर प्राप्त हुआ था। फिर इस कंपनी द्वारा अप्वाइंटमेंट लेटर भेजा गया। ईमेल पर 18 नवंबर को एक और मेल भेजा संबंधित आई। जिसमें उन्होंने कहा कि उनको ₹41400 जमा करवाने है। जो कि उन्होंने बैंक ऑफ इंडिया के खाता नंबर 848210510004305 जोकि Ranajit Reang हैं। उन्होंने बताया कि 19 नवंबर को आई सी आई सी आई बैंक के द्वारा पैसे ट्रांसफर किए गए। 20 नवंबर को दोबारा से उनके पास एक मेल आती है।

जिसमें वह कहते हेल्थ एंड सेफ्टी इंश्योरेंस के नाम पर आपको 89000 रुपए जमा करवाने होंगे। जो भी उन्होंने ही दोबारा से ट्रांसफर किए। वहीं तीसरी बार उनके द्वारा 23 नवंबर को कहा कि अमेरिकन कॉम्पिटेटिव एंड वर्क फोर्स एक्टिंग के नाम पर आपको 115980 अकाउंट में जमा करवाने होंगे।

लेकिन यह पैसे जमा करवाने के लिए उन्होंने एक दूसरा अकाउंट दिया जो कि फेडरल बैंक INDI उसका अकाउंट नंबर 21990100028312 जोकि नाज़िम उद्दीन के नाम पर है। 23 नवंबर 2020 को दोबारा से पब्लिक लो 113- 114 के तहत ₹395000 मांग गए।

इस दौरान उनके द्वारा एक बायोमैट्रिक अप्वाइंटमेंट लेटर भी भेजा गया। लेकिन उस अप्वाइंटमेंट लेटर में डेट गलत होने के कारण हम लोगों को फ्रॉड का शक हुआ। जब हम लोगों ने छानबीन की तो पता चला की वह फ्रॉड है। उन्होंने फ्रॉड के नाम पर ₹246380 ले लिए। जिस नंबर से उनकी बात हुआ करती थी वह नंबर भी पिछले काफी समय से बंद आ रहा है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More