Homeहरियाणा के इस बड़े घोटाले में 300 से अधिक अधिकारियों की लगेगी...

हरियाणा के इस बड़े घोटाले में 300 से अधिक अधिकारियों की लगेगी वाट, जानिये क्या है पूरा मामला

Published on

प्रदेश में बहुत बड़े-बड़े घोटाले हुए हैं। किसी की भी सरकार रही हो हर सरकार में कोई न कोई ऐसा काम हुआ है जो सरकार पर से भरोसा उठा देता है। पिछले 4 साल में रजिस्ट्रियों में बरती गई कोताही को लेकर प्रदेश सरकार ने 300 अधिकारियों पर कार्रवाई की तैयारी कर ली है। इन अफसरों पर रूल-7 के तहत कार्रवाई की जा सकती है।

अधिकारियों की लापरवाही और भ्रष्टाचार के कारण गत वर्ष अंधाधुंध अवैध रजिस्ट्रियां हुईं थी। अब सरकार इनको दोषी पाए जाने पर कर्मचारी या अधिकारी को चेतावनी देकर छोड़ा जा सकता है, निंदा की जा सकती है। एक वर्ष तक पदोन्नति रोकने के अलावा वेतन वृद्धि रोकी जा सकती है, जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई भी कराई जा सकती है। हालांकि अंतिम निर्णय सीएम मनोहर लाल को करना है।

हरियाणा के इस बड़े घोटाले में 300 से अधिक अधिकारियों की लगेगी वाट, जानिये क्या है पूरा मामला

अवैध तरीके से रजिस्ट्रियां हर जिले में हुईं थी। अवैध निर्माणों की भी अधिकारीयों ने रजिस्ट्री कर दी थी। सरकार ने पिछले दिनों में हिसार, फरीदाबाद, गुड़गांव, रोहतक, करनाल, अम्बाला के डिविजन कमिश्नरों से इस संदर्भ में जांच करने के आदेश दिए थे। जांच रिपोर्ट सीएमओ में भेज दी है। अफसराें को सस्पेंड करने की बजाए सरकार रूल-7 के तहत कार्रवाई कर सकती है। इन अफसरों में सबसे अधिक तहसीलदार, पटवारी व अन्य अफसर शामिल हैं।

हरियाणा के इस बड़े घोटाले में 300 से अधिक अधिकारियों की लगेगी वाट, जानिये क्या है पूरा मामला

एक साथ इतने सारे कर्मचारियों और अधिकारियों को सस्पेंड कर के सरकारी काम रुक सकते हैं। इसलिए अब रूल 7 के तहत कार्रवाई होगी। प्रदेश में रजिस्ट्री का नियम ये है कि किसी भी तहसील में जब रजिस्ट्री होती है तो तहसील में लगे कैमरे से फोटोग्राफी होती है, लेकिन जांच में यह सामने आ चुका है कि कई रजिस्ट्री मोबाइल से फोटो कर की गई हैं। ऐसे में इस तरह की रजिस्ट्रियों पर सवाल खड़े हुए थे।

हरियाणा के इस बड़े घोटाले में 300 से अधिक अधिकारियों की लगेगी वाट, जानिये क्या है पूरा मामला

हरियाणावासी काफी हैरान हैं कि कितने प्रकार के घोटाले कोई कर सकता है। रजिस्ट्री घोटाले ने आमजन का भरोसा सरकार से उठा दिया है। सख्त कार्रवाई की अपेक्षा दोषियों के खिलाफ आमजन चाहती है।

Latest articles

“नशा मुक्त भारत पखवाडा” के अन्तर्गत फरीदाबाद पुलिस कर रही सराहनीय कार्य, नशा तस्करों की धरपकड़ के साथ-साथ चलाए जा रहे जागरूकता अभियान

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेश, पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में फरीदाबाद...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अन्तर्गत अपराध शाखा बॉर्डर की टीम ने 532 ग्राम गांजा सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अंतर्गत नशे पर प्रहार करते हुए 520 ग्राम गांजा सहित आरोपी को अपराध शाखा DLF की टीम ने किया...

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्ग दर्शन में...

More like this

“नशा मुक्त भारत पखवाडा” के अन्तर्गत फरीदाबाद पुलिस कर रही सराहनीय कार्य, नशा तस्करों की धरपकड़ के साथ-साथ चलाए जा रहे जागरूकता अभियान

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के आदेश, पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में फरीदाबाद...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अन्तर्गत अपराध शाखा बॉर्डर की टीम ने 532 ग्राम गांजा सहित आरोपी को किया गिरफ्तार

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्गदर्शन में...

नशा मुक्त भारत पखवाडा के अंतर्गत नशे पर प्रहार करते हुए 520 ग्राम गांजा सहित आरोपी को अपराध शाखा DLF की टीम ने किया...

पुलिस महानिदेशक हरियाणा के निर्देशानुसार पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के मार्ग दर्शन में...