HomeCrimeसंदिग्ध परिस्थितियों में हुई विवाहिता की मौत, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

संदिग्ध परिस्थितियों में हुई विवाहिता की मौत, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

Published on

हरियाणा में घरेलू हिंसा के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। कुछ मामलों को तो पंचायती तौर पर समझा-बुझाकर शांत कर दिया जाता है परंतु बाद में जो नतीजे आते हैं वह हिला देने वाले होते हैं। एक ऐसा ही मामला फरीदाबाद के सेक्टर 3 से आया है जहां पहले घरेलू हिंसा होने पर यह मामला दबा दिया गया था

और सामाजिक और पंचायत तौर पर दोनों पक्षों को बिठाकर सुलह करा दी गई थी। परंतु उसका नतीजा अब उसके परिवार वालों को भुगतना पड़ रहा है। आपको बता दें कि प्रेमवती की शादी सेक्टर 3 में रहने वाले मोनू से 10 साल पहले हुई थी प्रेमवती के तीन बच्चे थे। पलवल के रहने वाले जयचंद ने बताया कि 14

संदिग्ध परिस्थितियों में हुई विवाहिता की मौत, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

अप्रैल को उनके पास प्रेमवती का फोन आया और अपने भाई जयचंद को आपबीती बताई। जयचंद ने बताया कि उसकी बहन फोन पर रो रही थी और कह रही थी कि मेरे साथ मोनू और उसके घर वालों ने मारपीट की है। उसके बाद यह मामला शांत हो गया था।

प्रेमवती के भाई जयचंद ने बताया कि उसके पास 16 अप्रैल को करीब 3:30 बजे पड़ोसी का फोन आया और बताया कि उसकी बहन की तबीयत बहुत खराब है। आप जल्दी आ जाइए जब वह सेक्टर 3 स्थित अपने बहन के घर पहुंचे तो उनका सब बेड पर रखा हुआ मिला। पुलिस मौके पर पहले ही पहुंची हुई थी।

संदिग्ध परिस्थितियों में हुई विवाहिता की मौत, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

जयचंद ने अपने जीजा मोनू, ननंद और सांस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा इन तीनों ने ही मेरी बहन को मारा है। मामले की जांच गहनता से हो। आपको बता दें कि घटनास्थल से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। जब भाई से यह बात पूछी गई तो उसने बताया कि उसकी बहन प्रेमवती अनपढ़ है। पुलिस ने देर रात एफ आई आर दर्ज करके मामले को क्राइम ब्रांच को सौंप दिया और स्पेशल टीम भी बनाई गई है। आपको बता दें कि मोनू और उसकी माता को गिरफ्तार कर लिया है अभी तक नन्द की गिरफ़्तारी बाक़ी है। मामले की जांच चल रही है

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...