Pehchan Faridabad
Know Your City

ऑफिस तो है नही भर्ती करके क्या करेगा फरीदाबाद का नया प्रशासन

गुरुग्राम की तर्ज पर शहर को स्मार्ट बनाने के लिए फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए ) का गठन किया गया था । फरीदाबाद में एफएमडीए की एडिशनल सीईओ गरिमा मित्तल निभा रही हैं । ऐसे वीडियो में अब अधिकारियों में कर्मचारियों की भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई है ।

10 अप्रैल को फरीदाबाद पहुंचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की अध्यक्षता में बैठक की गई उसके तत्पश्चात एफएमडीए में कामकाज की प्रक्रिया अब तेज हो गई है. एफएमडीए की अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ मित्तल इनके साथ दो बार बैठक कर चुकी है।

इस कड़ी में सबसे पहले स्टार्ट की भर्ती की जाएगी उसके बाद दूसरे काम शुरू किए जाएंगे फिलहाल गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को ही एफएमडीए का कार्य संभालना पड़ता है ज्ञात हो कि एफएमडीए समूचे जिले के विकास की रूपरेखा को तैयार करने में कामगार साबित होगा अर्थात यह बड़ी योजनाओं पर कार्य करेगा ।

एफडीए का काम कर शुरू करने के लिए सरकार की ओर से फिलहाल 105 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है इसके बाद एफएमडीए ईडीसी सहित अन्य तरीके से खुद अपनी कमाई किस दरियों को पैदा करेगा
एमबीए के लिए फिलहाल 9 मुख्य अभियंता स्तर के अधिकारियों की भर्ती की जानी है

कुछ ऐसे भी अधिकारी होंगे जो किसी भी विभाग से सेवानिवृत्त हो चुके हैं जिसमें सिविल आईडी सहित अन्य फील्ड एक्सपर्ट अधिकारियों को मौका दिया जाएगा अर्थात इसके बाद विभाग की ओर से सेवानिवृत्त हुए मुख्य अभियंता से भी संपर्क करना शुरू कर दिया है।

तो बता दे की एफएमबीए में तकरीबन 40 कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी
इस भर्ती परीक्षा के अलावा एफएमडीए के लिए हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण नगर निगम से भी अधिकारी में कुछ कर्मचारी लिए जा सकते है फिलहाल दोनों विभागों के पास एफएमडीए की ओर से पत्र भेजा जा चुका है

फिलहाल एफएमडीए में काम करने के लिए अधिकारियों की राय मांगी जा रही है उसके बाद सरकार के आदेश से अधिकारियों की नियुक्ति की जा सकती है काफी दिनों से कार्यालय भी किसी चुनौती से कम नहीं है एफएमडीए का अस्थाई कार्यालय आईएमटी स्थित एचएसआईआईडीसी के कार्यालय में बनाया जाएगा कार्यालय का निरीक्षण हो चुका है ।

यहां इमारत की प्रथम मंजिल पर एफएमडीए का कार्यालय बनेगा कार्यालय के अंदर काम इसी महीने से शुरू होना है यह कयास लगाए जा रहे हैं कि अधिकारी भी जल्द ही यहां पर बैठना शुरु कर देंगे अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ गरिमा मित्तल कहती है

कि सेवानिवृत्त अधिकारियों के लंबे अनुभव का लाभ लिया जाएगा फिलहाल 1 साल के लिए इन अधिकारियों व कर्मचारियों की भर्ती होगी आगे कार्यकाल बढ़ाया जा सकता है एमबीए के लिए हर फील्ड के एक्सपोर्ट की राय ली जाएगी ।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More