Pehchan Faridabad
Know Your City

पॉजिटिव मरीजों की रिकवरी रेट में आई कमी, स्वास्थ्य विभाग सतर्क

जहां एक और दिन प्रतिदिन मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। वहीं दूसरी ओर रिकवरी रेट में भी कमी देखी जा रही है। इसके अलावा जिले का एकमात्र सरकारी अस्पताल में हर रोज सैकड़ों की संख्या में लोग टेस्टिंग करवाने के लिए आ रहे हैं।

वहीं उनकी रिपोर्ट के लिए भी लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वैसे तो नियम के अनुसार 2 दिन के अंदर रिपोर्ट आ जाती है।

लेकिन टेस्टिंग ज्यादा होने की वजह से रिपोर्ट में देरी हो रही है। जिसकी वजह से बीके अस्पताल में टेस्टिंग और रिपोर्ट के काउंटर के बाहर तक लाइन देखने को मिल रही है।

डिप्टी सीएमओ डॉ राम भगत के द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार सोमवार को पॉलिटिक्स का आंकड़ा 332914 तक पहुंच गया है। अगर हम 24 घंटे की बात करें तो 24 घंटे में करीब 1080 नए पॉजिटिव केस के मरीज पाए गए हैं। इसके अलावा 24 घंटे के अंदर 4 मरीजों की मृत्यु भी हुई है।

अगर हम एक्टिव केस की बात करें तो जिले में अभी भी 5577 एक्टिव केस मौजूद है। वही 778 मरीज अस्पताल में भर्ती है। तो 698 मरीजों को ठीक होकर घर भेज दिया गया है। इसके अलावा होम आइसोलेशन में करीब जिले के 4799 मरीज है। कुछ दिन पहले स्वास्थ्य विभाग से मिले आंकड़ों के अनुसार रिकवरी रेट 98 और 99 हुआ करता था।

वही यह आज घटकर 89.9% तक पहुंच गया है। इस साल का यह सबसे कम रिकवरी रेट मापा गया है। जिससे यह अनुमान लगाया जा सकता है कि आने वाले समय में महामारी का दौर किस तरह बढ़ सकता है। सोमवार को 6200 लोगों को वैक्सीन लगाई गई।

टेस्टिंग टेस्टिंग के लिए उमड़ी भीड़

पिछले कुछ दिनों से पॉजिटिव मरीजों की संख्या में इजाफा होने के बाद टेस्टिंग की संख्या में भी इजाफा देखने को मिला है। बीके अस्पताल की एनएचएम बिल्डिंग में टेस्टिंग की जाती है। लेकिन सोमवार को टेस्टिंग सेंटर पर इतनी ज्यादा भीड़ देखने को मिली कि कर्मचारियों को लोगों को गेट के बाहर लाइन लगाकर खड़ा करना पड़ा और आवाज लगाकर उनको टेस्ट के लिए बुलाना पड़ा।

कर्मचारियों की मानें तो उनका कहना है कि जब से मरीजों की संख्या में इजाफा आया है। तब से टेस्टिंग की और भी ज्यादा ध्यान दे रहे हैं। वहीं दूसरी और यह भी कहा जा रहा है कि अगर किसी व्यक्ति को खांसी, जुखाम या बुखार आता है। तो वह तुरंत वहां को भी टेस्ट करवाने के लिए आ जाता है। क्योंकि उन्हें व्यक ऐसा लगता है कि वह कभी पॉजिटिव तो नहीं है।

रिपोर्ट की भी है लंबी लाइन

जहां एक और टेस्टिंग के लिए लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं उस टेस्ट की रिपोर्ट लेने के लिए भी उनको अस्पताल के दो से तीन चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। अगर हम बीके अस्पताल की बात करें तो सोमवार को बीके अस्पताल के सीएमओ ऑफिस के सामने एक बहुत बड़ी लाइन देखने को मिली। जो कि टेस्ट की रिपोर्ट लेने के लिए आए थे।

लेकिन उनमें से कई लोगों की रिपोर्ट नहीं आने की वजह से वह दोबारा से रिपोर्ट लेने के लिए अस्पताल में आएंगे। लोगों का कहना है कि कर्मचारियों को द्वारा बताया गया था कि 2 दिन के अंदर रिपोर्ट आ जाएगी। में 2 दिन बाद अपनी रिपोर्ट लेने के लिए आए लेकिन अभी तक भी उनकी रिपोर्ट नहीं आई है। जिसकी वजह से वह अगले दिन की आने को मजबूर है।

फरीदाबाद कोरोना बुलेटिन अपडेट- 19 अप्रैल 2021

फरीदाबाद मे कोरोना ब्लास्ट जांच पहुंची 332914 के आंकड़े पर

24 घंटे मे आये अब तक के सबसे ज्यादा रिकॉर्ड 1080 नए पॉजिटिव केस

पिछले 24 घंटों मे हुई 4 और मरीज की मौत

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक जिले मे अब तक 443 मौत हुई

फरीदाबाद मे फिर शुरू हुआ कोरोना का कहर

कुल पोसिटिव-56828

अस्पताल से छुट्टी-50808

आज एक्टिव केस-5577

अस्पताल मे भर्ती-778

अस्पताल से छुट्टी-698

घर पर पॉजिटिव कोरंटीन-4799

गंभीर हालात मे भर्ती किए गए मरीज-188

वेंटीलेटर पर icu मे भर्ती-27

रिकवरी रेट-89.9 %

कोरोना के साथ-साथ अलग बीमारियों से ग्रस्त मृत्यु-443

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More