HomeFaridabadअब ई– संजीवनी से होगा मरीजों का इलाज, संक्रमण के कारण हुआ...

अब ई– संजीवनी से होगा मरीजों का इलाज, संक्रमण के कारण हुआ यह फैसला

Published on

जिले में संक्रमण तेज़ी से पांव पसार रहा। आए दिन कंटेंटमेंट जॉन की संख्या में वृद्धि देखने के लिए मिल रही है। यदि हम गुरुवार की बात करे तो 24 घंटे में 1342 संक्रमित मरीजों को पुष्टि हुई, जिसमे से 5 मरीजों की मौत हो गयी।

वही दूसरी ओर शुक्रवार के ताजा आंकड़ों के मुताबिक जिले में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ कर के 1450 हो गई और आठ मरीजों ने संक्रमण से दम तोड़ दिया। साथ ही 728 मरीजों ने संक्रमण को मात भी दी है।

अब ई– संजीवनी से होगा मरीजों का इलाज, संक्रमण के कारण हुआ यह फैसला

संक्रमण के इसी बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए माननीय महानिर्देशक स्वस्थ सेवाए, पंचकुला ने प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों के लिए एक दिशा निर्देश जारी किए है। माननीय महानिर्देशक के आदेशानुसार अब सरकारी अस्पतालों की ओ.पी.डी सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक ही खुली रहेंगी, साथ एमरजेंसी सेवाएं पहले की ही तरह ही चालू रहेंगी।

अब ई– संजीवनी से होगा मरीजों का इलाज, संक्रमण के कारण हुआ यह फैसला

आप को बता दें कि पहले अस्पतालों की ओ.पी.डी सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुली रहती थी। इसी के साथ यदि किसी मरीज़ को अपने डॉक्टर से परामर्श की आवश्यकता है। तो वह ई संजीवनी ऐप के जरिए अपने डॉक्टर से चिकित्सकीय सलाह ले सकते है।

गौरतलब है कि महामारी के संक्रमण के कारण अब अस्पतालों में मरीजों की संख्या में भी भारी कमी देखने को मिल रही हैं। अगर हम फरीदाबाद जिले की बात करे तो यहां के  नागरिक अस्पताल में जहां एक दिन में 2000 मरीज आते थे। अब वही संख्या तक़रीबन आधी से भी कम हो गयी है।

अब ई– संजीवनी से होगा मरीजों का इलाज, संक्रमण के कारण हुआ यह फैसला

डेंटल एंड सर्जरी की ओपीडी हुई बंद

महामारी के संक्रमण को देखते हुए अस्पताल प्रशासन ने डेंटल और सर्जरी की ओपीडी को पूर्ण रूप से बंद कर दिया है। दोनों ओपीडी के बाहर एक नोटिस लगा हुआ है जिसमें उसमें लिखा हुआ है कि डॉक्टर महामारी की चपेट में आने की वजह से होम आइसोलेशन पर है।

अब ई– संजीवनी से होगा मरीजों का इलाज, संक्रमण के कारण हुआ यह फैसला

इसीलिए ओपीडी नहीं चलाई जा रही है दोनों ओपीडी के बाहर एक नोटिस लगा हुआ है। जिसमें यह लिखा हुआ है कि इस ओपीडी के डॉक्टर महामारी से ग्रस्त है इसीलिए वे क्वॉरेंटाइन पर है।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...