Homeकिसान आंदोलन में फिरसे हो रहा है ये काम, सरकार को चुनौती...

किसान आंदोलन में फिरसे हो रहा है ये काम, सरकार को चुनौती देने लगें हैं किसान

Published on

नए कृषि कानूनों के विरोध में धरना दे रहे किसान अपनी ज़िद्द छोड़ने को तैयार नहीं है। 150 दिन आंदोलन के होने को हैं लेकिन फिर भी यह अपनी ज़िद्द पर अड़े हैं। कानूनों के विरोध में टिकरी बॉर्डर पर चल रहे आंदोलन में एक बार फिर से पंजाब से लोगों के आने से पंडालों में भीड़ एकत्र होने लगी है। महामारी के बढ़ते संक्रमण के बीच इस तरह से बाहर से आकर लोगों का आंदोलनकारियों की भीड़ में शामिल होने से यहां भी खतरा बढ़ता जा रहा है।

सरकार इस आंदोलन को समाप्त करने लिए हर प्रयास कर चुकी है लेकिन कुछ देश विरोधी ताकतें इसे समाप्त नहीं होने दे रही हैं। यहां डीसी ने भी किसानों को महामारी की जांच करवाने वैक्सीन लगवाने को कहा था। पर तब भी किसान अधिकारियों को गोलमोल जवाब देकर चले गए थे।

किसान आंदोलन में फिरसे हो रहा है ये काम, सरकार को चुनौती देने लगें हैं किसान

किसानों के रूप में यह बेहरुपीये बैठे हैं इस बात का प्रमाण यह लोग बार – बार दे रहे हैं। किसान देश का सोचता है न कि देश को घाव देता है। टिकरी बाॅर्डर व नया गांव स्थिति चल रहे आंदोलन में भीड़ बढ़ने से व पंडालों के दोनों तरफ बढ़ती भीड़, लगातार लोगों की आवाजाही और महामारी से बचाव के किसी भी नियमों का पालन नहीं होने के कारण आंदोलन स्थल पर संक्रमण तेजी से फैलने का खतरा मंडराने लगा है।

किसान आंदोलन में फिरसे हो रहा है ये काम, सरकार को चुनौती देने लगें हैं किसान

प्रदर्शन कर रहे किसान अब किसान कम और गुंडे ज़्यादा जान पड़ रहे हैं। गेहूं की फसल कटाई के बाद एक बार फिर से आंदोलनकारी बॉर्डर पर जुटने लगे हैं। नया गांव में आंदोलन स्थल पर पहले से ही पांच-सात हजार लोग मौजद है व अब करीब पांच हजार के करीब और किसान व उनके परिवार पहुंचे थे। जिनमें से कुछ वापस भी गए हैं।

किसान आंदोलन में फिरसे हो रहा है ये काम, सरकार को चुनौती देने लगें हैं किसान

लगातार बढ़ती संख्या ने सरकार को चुनौती देने का काम किया है। यह चुनौती देश को घाव देने वाली है। महामारी अपना रंग दिखा रही है। हर तरफ स्थिति डरावनी बनी हुई है।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...