Pehchan Faridabad
Know Your City

बढ़ते संक्रमण के साथ बढ़ा भ्रमिकता का प्रचार, खट्टर अधिकारियों को बोलें जनता को बताए वास्तविकता

एक तरफ जहां आग को तरह फैलने वाला संक्रमण लोगों को बीमार कर रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ हवा में घुलता हुई फर्जी खबरें हरियाणा सरकार के माथे पर चिंता की लकीरों को खींचता जा रहा हैं। वायरस को लेकर एक दिनों सोशल मीडिया पर फर्जी खबरों का भंडारण देखा जा सकता हैं।

जिसके चलते आंगन के मन में भी डर पनपता हुआ देखा जा रहा है। जनता की चिंता को समझते हुए खट्टर सरकार ने भ्रामक प्रचार कर रहें सोशल मीडिया के खिलाफ विरोध व्यक्त करते हुए अफसरों को विशेष दिशा-निर्देश दिए हैं।

दरअसल, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव एवं सूचना, जनसंपर्क व भाषा विभाग के महानिदेशक डॉ. अमित अग्रवाल ने बताया कि इन दिनों संक्रमण को लेकर जिस तरह की फर्जी खबरें आमजन तक पहुंचाई जा रही है, उसपर लगाम लगाना शुरू कर दें।

जिसके लिए विभागीय अफसरों से कहा गया है कि वे लोगों को सही सूचना दें। मीडिया के माध्यम से राज्य के लोगों को सटीक एवं तथ्यपरक सूचना देकर उनमें सकारात्मक सोच विकसित करें।

वहीं डॉ. अमित अग्रवाल ने चंडीगढ़ से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रदेश के सभी जिलों के अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार पीड़ितों की मदद के लिए जो कदम उठा रही है

, उसके बारे में लोगों को बताएं कि इस वक्त जरूरत है लोगों के मन में डर पैदा करने की जगह जागरूकता पैदा करें। डॉ. अमित अग्रवाल ने कहा कि राज्य सरकार कोविद-19 से निपटने के लिए हरसंभव कदम उठा रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार के प्रयासों और इंतजामों की तैयारियों की खबर लोगों तक समय पर पहुंचाना सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग की जिम्मेवारी है. अधिकारियों को समाचार-पत्रों, टीवी चैनलों, कम्यूनिटी व एफएम रेडियो तथा सोशल मीडिया के अलावा होर्डिंग व पोस्टरों के माध्यम से लोगों में कोरोना के प्रति जागरूक करना है।

मीडिया के माध्यम से हमें लोगों को समझाना है कि वे मास्क, सैनेटाइजेशन का प्रयोग अवश्य करें, ताकि इस महामारी की चपेट में आने से बच सकें. साथ ही जो लोग कोरोना से ठीक हो रहे हैं उनकी खबरें भी जनता तक अवश्य पहुंचाएं।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More