Homeदिल्ली से जान बचाकर हरियाणा में आये, ऑक्सीजन नहीं मिलने से मौत...

दिल्ली से जान बचाकर हरियाणा में आये, ऑक्सीजन नहीं मिलने से मौत के मुँह समाय

Published on

इस समय महामारी की दूसरी लहर ने सबकुछ थमा दिया है। सबकुछ थम गया है। चिंता और चिता का माहौल हर तरफ है। लगातार मौतों का आकड़ां बढ़ता जा रहा है। हरियाणा के पानीपत में आक्सीजन और वेंटिलेटर नहीं मिलने से संक्रमित पांच लोगों की मौत हो गई। मृतकों के परिजनों का आरोप था कि अगर समय पर आक्सीजन और वेंटिलेटर मिल जाते तो उनकी जान बच सकती थी।

इस समय प्रदेश ही नहीं बल्कि देश में भी त्राहिमाम मचा हुआ है। पानीपत में जो घटना घटी है उन मृतकों में चार मरीज दिल्ली से थे जिन्हें वहां बेड नहीं मिलने पर पानीपत लाया गया था।

दिल्ली से जान बचाकर हरियाणा में आये, ऑक्सीजन नहीं मिलने से मौत के मुँह समाय

महामारी की दूसरी लहर ने कहर मचा दिया है। लगातार मामलों में बढ़ोतरी हो रही है। इस समय महामारी का नया स्ट्रेन कहर बरपा रहा है। महामारी से मरने वालों की संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है। स्थिति काफी डराने वाली बनी हुई है। कोई भी ऐसा राज्य नहीं जहां मामले कम हो रहे हों। ऐसे हालातों को लेकर लोगों को सजग रहने की आवश्यकता है। मास्क जरूर पहनें, जरूरी हो तभी घर से बाहर जाएं, भीड़भाड़ वाले कार्यक्रमों से दूर रहें।

दिल्ली से जान बचाकर हरियाणा में आये, ऑक्सीजन नहीं मिलने से मौत के मुँह समाय

महामारी के बढ़ते प्रकोप ने फिरसे दुनिया की रफ़्तार थाम दी है। हर तरफ चिंता का माहौल है। पॉजिटिविटी रेट बढ़ने के कारण यह महामारी खतरनाक हो रही है। लगातार बढ़ते मामलों ने हमारी लापरवाही को उजागर किया है। लगातार बढ़ते मामलों से देश समय विदेश में फिरसे लॉकडाउन लगाने की स्थिति बन रही है।

दिल्ली से जान बचाकर हरियाणा में आये, ऑक्सीजन नहीं मिलने से मौत के मुँह समाय

देश को महामारी की दूसरी लहर ने झकझोर कर रख दिया है। हर राज्य से भयावह तस्वीरें सामने आ रही हैं। सतर्क रह कर इस बीमारी से जीत हो सकती है। मास्क लगाना न भूलें।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...