HomeFaridabadसात फेरे लेने से पहले परिजनों को बाटे मास्क और सैनिटाइजर

सात फेरे लेने से पहले परिजनों को बाटे मास्क और सैनिटाइजर

Published on

शादी का सपना तो हर कोई देखता है। लेकिन उस शादी में कुछ ऐसा हो जाए जो जिंदगी भर याद रहे। तो सोने पर सुहागा हो जाता है। जैसे कि हम सभी जानते हैं अभी महामारी का दौर चल रहा है। इसी वजह से लोग शादी कर लो अच्छे से नहीं उठा पा रहे हैं।

जिसकी वजह से परिजनों के चेहरे से खुशी तो चली गई है। लेकिन जिले में एक ऐसे शादीशुदा जोड़े ने सात फेरे लेने से पहले ऐसा कार्य किया है। जो कि वह सारी उम्र याद रखेंगे।

सात फेरे लेने से पहले परिजनों को बाटे मास्क और सैनिटाइजर

26 अप्रैल 2021 को सेक्टर 16 स्थित आशीर्वाद होटल में तिरखा कालोनी के रहने वाले गौरव और चंडीगढ़ की रहने वाली अनुराधा ने सात फेरे लिया और सात जन्मो तक एक दूसरे का साथ ना छोड़ने की कथा और वादे किए।

यानी दोनों ने शादी कर ली। लेकिन दोनों ने सात फेरे लेने से पहले उनके वहां मौजूद करीब 40 लोगों को मास्क और सैनिटाइजर बांटकर उनको महामारी के बारे में जागरूक किया। गौरव ने बताया कि वह रोड सेफ्टी ओमी फाउंडेशन का सदस्य है।

सात फेरे लेने से पहले परिजनों को बाटे मास्क और सैनिटाइजर

जो कि समय-समय पर रोड सेफ्टी को लेकर लोगों को जागरूक करता है और इस महामारी के दौर में भी है लोगों को समय-समय पर जागरुक करने का कार्य करते है। लेकिन उनकी शादी इस महामारी के दौर में होगी उनको ऐसा पता नहीं था।

इसलिए उन्होंने अपनी ही शादी में लोगों को या यूं कहें अपने गिने-चुने परिजनों को मास्क और सैनिटाइजर देकर जागरूक किया। उन्होंने बताया कि उनकी शादी तो बहुत पहले ही तय हो गई थी। लेकिन उनको यह पता नहीं था कि जब उनकी शादी की तारीख आएगी। उस दिन इस तरीके का लॉक डाउन लग जाएगा।

सात फेरे लेने से पहले परिजनों को बाटे मास्क और सैनिटाइजर

जिसमें मात्र 50 लोग ही शादी में शामिल हो पाएंगे। उन्होंने बताया कि शादी में लोग बिना मास्क के प्रवेश कर रहे थे। लेकिन वरमाला का आयोजन होने के बाद जब लोग उनको स्टेज पर आशीर्वाद देने के लिए आ रहे थे। तब उनसे आशीर्वाद तो ले रहे थे पर साथ में उनको ऑफ मास्क और सैनिटाइजर भी वितरित कर रहे थे।

ताकि वह भी इस महामारी से बच सकें और अपने परिवार को भी बचा सके। उन्होंने बताया हर किसी की शादी में कुछ ना कुछ अनोखा होता है और उनकी शादी में ऐसा अनोखा कुछ होगा उनको मालूम नहीं था। लेकिन यह बहुत अच्छा है। जिससे कि वह लोगों को जागरूक कर रहे हैं और आने वाले समय में इस महामारी से उनको बचा रहे हैं।

Latest articles

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

More like this

NIT क्षेत्र में पानी की किल्लत के समाधान को लेकर FMDA के CEO से मिले विधायक नीरज शर्मा

आज दिनांक 29 मई 2024 को एनआईटी फरीदाबाद से विधायक नीरज शर्मा ने फरीदाबाद...

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...