HomeFaridabadप्रशासन के इस फैसले से इन परिवारों में देखने को मिल रही...

प्रशासन के इस फैसले से इन परिवारों में देखने को मिल रही है नाराजगी, बोले वक्त तो लगता है

Published on

महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए जिला प्रशासन ने रात 10 बजे से पहले शादी की रस्में पूरी तरह के निर्देश दिए हैं परंतु प्रशासन की इस निर्देश से शादी वाले हर परिवार के माथे पर चिंता की लकीर खींच गई है। परिवार के लोग यह सोच रहे हैं कि 4 घंटे के अंदर शादी की सभी रस्में कैसे पूरी होंगी ।

दरअसल, महामारी के बढ़ते मामलों के चलते प्रशासन सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। इसी सख्ती के तहत जिले के कुछ हिस्सों में लॉकडाउन भी लगा दिया गया है वही शादी तथा सार्वजनिक कार्यक्रमों को लेकर भी काफी सख्त है और उचित नियम बना रहा है।

प्रशासन के इस फैसले से इन परिवारों में देखने को मिल रही है नाराजगी, बोले वक्त तो लगता है

शादी को लेकर प्रशासन की तरफ से जारी निर्देशों के अनुसार शादी की सभी रस्में रात 10 बजे से पहले पूरी करनी होगी। नियमों का पालन न करने पर आयोजकों पर कानूनी कार्यवाही की जाएगी। वहीं इस मामले में जब लोगों से बात की गई तो उन्होंने प्रशासन के इस फैसले पर नाराजगी जताई। लोग चाहते हैं कि समय सीमा को बढ़ाया जाए।

इंदिरा कंपलेक्स के महिला ने बताया कि उनकी बेटी की 30 अप्रैल की शादी है। करीब 300 लोगों को कार्ड बंट चुके हैं अब सिर्फ 50 लोगों को बुला रहे हैं। 4 घंटे में शादी कैसे हो पाएगी यह सोचने का विषय है।

प्रशासन के इस फैसले से इन परिवारों में देखने को मिल रही है नाराजगी, बोले वक्त तो लगता है

गौरतलब है कि लगातार बढ़ते संक्रमण मामलों के बीच हरियाणा सरकार ने फरीदाबाद में सख्ती बढ़ा दी है। हरियाणा सरकार तथा जिला प्रशासन महामारी पर रोक लगाने के लिए तमाम कोशिशें कर रही है।

आए दिन अलग-अलग नियम बनाए जाते हैं तथा लोगों से भी नियमों की पालना करने की अपील की जाती है। इस समय फरीदाबादवासी नाइट कर्फ्यू, मेक्रो कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन, दुकानों का 6 बजे ही बंद हो जाना जैसे नियमों की पालना कर रहे हैं।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...