HomeLife StyleHealthहरियाणा के इस डॉक्‍टर के जज्बे को सलाम, दर्द से तड़प रही...

हरियाणा के इस डॉक्‍टर के जज्बे को सलाम, दर्द से तड़प रही थी गर्भवती, डॉक्टर ने गोद उठाया और…

Published on

पृथ्वी के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर इन दिनों सभी का दिल जीत रहे हैं। सभी इनकी तरफ आकर्षित हो रहे हैं। हर कोई इनकी बात कर रहा है। कारण बहुत से हैं। हरियाणा के जींद जिले के सिविल अस्पताल में डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. रमेश पांचाल ने इंसानियत का परिचय दिया। मुख्य गेट पर स्ट्रेचर न मिलने से गाड़ी में तड़प रही महिला को गोद में उठाकर इमरजेंसी तक पहुंचाया।

इन्हें काफी तारीफें मिल रही हैं। हर कोई इनका मुरीद हो रहा है। उन्होंने संक्रमण की भी परवाह नहीं की। डॉक्टर को ऐसा करते देख कर्मचारी स्ट्रेचर लेकर आए, लेकिन एनीमिया ग्रस्त महिला सोनिया ने दम तोड़ दिया। वह 8 माह की गर्भवती थीं। उनकी महामारी रिपोर्ट निगेटिव आई है।

हरियाणा के इस डॉक्‍टर के जज्बे को सलाम, दर्द से तड़प रही थी गर्भवती, डॉक्टर ने गोद उठाया और...

महामारी के कारण आज – कल लोग एक दूसरे से दूर भाग रहे हैं। कोई नज़दीक आने का परिचय नहीं दे रहा है। ऐसे में डॉक्टर ने महामारी की परवाह किये बिना काफी कुछ कह दिया है। इस महिला की पहचान उत्तर प्रदेश के बांदा निवासी सोनिया के रूप में हुई है। सोनिया अपने पति रामशाही के साथ गांव खरकरामजी के एक ईंट भट्ठे पर मजदूरी करती थीं और आठ माह की गर्भवती थीं।

हरियाणा के इस डॉक्‍टर के जज्बे को सलाम, दर्द से तड़प रही थी गर्भवती, डॉक्टर ने गोद उठाया और...

महिला की ज़िंदगी नहीं बच सकी। मरते वक़्त वह मदद की आस लगाए बैठी थीं। डॉक्टर ने उनकी मदद की। महिला की मौत के बाद उनका महामारी टेस्ट किया गया, लेकिन वह निगेटिव मिला। सांसद दीपेंद्र ने ट्वीट कर लिखा कि जींद के सामान्य हॉस्पिटल में स्ट्रेचर नही मिला और महिला की स्थिति गंभीर दिखी तो महिला मरीज को दोनों हाथों में उठाकर दौड़े डिप्टी सिविल सर्जन डॉक्टर रमेश पांचाल…. salute sir कौन कहता है इंसानियत मर गयी है?

इंसानियत कहीं न कहीं अभी जीवित है। बस नजरिया गायब हुआ है। डॉक्टर के इस प्रयास की खूब तारीफ हो रही है। महिला में खून की कमी थी. उनकी हिस्ट्री देखने पर पता चला कि खून के कमी के चलते पिछले दिनों महिला रोहतक पीजीआई में दाखिल हुई थीं, जहां पर स्वजन पूरा इलाज करवाए बिना ही खरकरामजी ले आए थे।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...