Homeमई के लिए केंद्र ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है, इन...

मई के लिए केंद्र ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है, इन राज्यों में रहेगी लॉकडाउन जैसी सख्ती

Published on

महामारी की दूसरी लहर ने इस समय कहर मचा रखा है। किसी भी राज्य में स्थिति संतोषजनक नहीं है। स्थिति लॉकडाउन जैसी हो गयी है। देश में दूसरी लहर ने विकराल रूप ले लिया है। रोज़ाना तीन लाख से ज्‍यादा केस सामने आ रहे हैं। इसे देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को निर्देश दिया कि वे ज्‍यादा प्रसार वाले जिलों और इलाकों में वायरस के संक्रमण की रोकथाम के उपायों को लागू करने के दिशा निर्देश जारी किए हैं।

पहली लहर डरा रही रही थी और दूसरी बता रही है कि संभल जाओ, नहीं तो लॉकडाउन ही अंतिम विकल्प है। केंद्र ने अब राज्यों को उन जिलों की पहचान करने को कहा है जहां या तो पिछले एक हफ्ते में पॉजिटिविटी रेट 10 फीसद से ज्‍यादा थी या जहां अस्‍पतालों में 60 फीसद से ज्‍यादा बेड भरे हुए हैं।

मई के लिए केंद्र ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है, इन राज्यों में रहेगी लॉकडाउन जैसी सख्ती

महामारी का प्रकोप हर तरफ फैल गया है। जहां देखो वहां स्थिति चिंताजनक है। दूसरी लहर सभी को डरा रही है। सरकार द्वारा महामारी के लिए गाइडलाइन जारी होने से पहले ही कई राज्यों ने अपने यहां कई कड़े प्रतिबंध लगा दिए है, जो लॉकडाउन जैसे ही हैं। इनमें यूपी, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु सहित कई राज्यों ने लोगों की सुरक्षा के लिए लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू के लिए नई गाइडलाइंस जारी किए हैं।

मई के लिए केंद्र ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है, इन राज्यों में रहेगी लॉकडाउन जैसी सख्ती

हर कोई सहमा हुआ है। हर तरफ भय का माहौल है। महामारी की दूसरी लहर ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया है। देश के लगभग सभी राज्य इस समय ऑक्सीजन की कमी, अस्पतालों में बेड्स की कमी और महामारी से हो रही मौत का सामना कर रहे हैं। महाराष्ट्र में महामारी की रोकथान के लिए मिनी लॉकडाउन की मियाद बढ़ा दी गई है।

मई के लिए केंद्र ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है, इन राज्यों में रहेगी लॉकडाउन जैसी सख्ती

देश में लगातार महामारी के मरीजों का ग्राफ बढऩे के चलते अस्पतालों पर दबाव बढ़ता जा रहा है। यूपी में संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए वीकेंड लॉकडाउन में एक दिन का इजाफा कर दिया गया है। राजस्थान में पिछले हफ्ते से एक बार फिर गहलोत सरकार ने वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा कर दी है।

Latest articles

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती – रेणु भाटिया (हरियाणा महिला आयोग की Chairperson)

मैं किसी बेटी का अपमान बर्दाश्त नहीं कर सकती। इसके लिए मैं कुछ भी...

More like this

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है: कशीना

भगवान आस्था है, मां पूजा है, मां वंदनीय हैं, मां आत्मीय है, इसका संबंध...

भाजपा के जुमले इस चुनाव में नहीं चल रहे हैं: NIT विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा

एनआईटी विधानसभा-86 के विधायक नीरज शर्मा ने बताया कि फरीदाबाद लोकसभा सीट से पूर्व...